Himalayan

High Court बार चुनाव निरस्त करने की मांग

देहरादून/नैनीताल (देशराज)। हाईकोर्ट High Court बार एसोसिएशन के 27 मई को संपन्न हुए चुनाव में वन बार वन वोट के नियम का पालन न होने की शिकायत अध्यक्ष पद प्रत्याशी रहे शशिकांत शांडिल्य ने मुख्य निर्वाचन अधिकारी से की है।

शिकायती पत्र में नियम विरुद्ध हुए चुनाव को रद्द करने की मांग की गई है। साथ ही शिकायती पत्र की प्रति बार काउंसिल ऑफ इंडिया व उत्तराखंड के चेयरमैन को भी भेजी गई है। इसमें नियम विरुद्ध मतदान करने वाले अधिवक्ताओं के खिलाफ कार्रवाई की मांग की गई है।

हाईकोर्ट High Court बार एसोसिएशन के चुनाव के लिए नामित मुख्य निर्वाचन अधिकारी को दिए पत्र में शांडिल्य ने कहा है कि चुनाव के लिए जारी की गई वोटर लिस्ट में 1229 वोटर दर्शाए गए थे। इनमें से 793 वोटर ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। लेकिन ज्ञात हुआ है कि बहुसंख्या में अन्य बार एसोसिएशन के ऐसे सदस्यों ने हाईकोर्ट High Court बार एसोसिएशन के चुनाव में मतदान किया है, जो पहले ही अपना मतदान अपनी बार एसोसिएशन में कर चुके हैं।

यह उच्चतम न्यायालय तथा बार काउंसिल ऑफ उत्तराखंड द्वारा जारी वन बार वन वोट के संदर्भित निर्देशों का उल्लंघन है। पत्र में हाईकोर्ट बार एसोसिएशन के चुनाव में अन्य बार एसोसिएशन के सदस्यों द्वारा किए गए मतदान की नियमानुसार जांच कर विधि अनुसार उचित कार्रवाई करने, दोषी पाए जाने पर ऐसे सदस्यों के खिलाफ उचित दंडात्मक कार्रवाई करने व चुनाव प्रक्रिया को निरस्त कर पुनः मतदान कराने की मांग की है।

See also  आदर्श महापुरूष थे संत रविदास: सतपाल ब्रह्मचारी