सर्वजन दवा सेवन अभियान के लिए बनाई ह्यूमन चेन 

 10 फरवरी से होगी शुरुआत

सर्वजन दवा सेवन अभियान के लिए बनाई ह्यूमन चेन 

  • इलाज के साथ बीमारी के बारे में भी किया जागरूक
  • अटल स्वास्थ्य मेला 
  •  नुककड़ नाटक के जरिए मेला में आए लोगों को किया जागरूक

लखनऊ। राजधानी में रविवार से शुरू हुए अटल स्वास्थ्य मेले का सोमवार को चिकित्सा व परिवार कल्याण विभाग के सचिव रंजन कुमार ने भ्रमण किया। उन्होंने सभी स्टाल पर जाकर  वहाँ उपस्थित सेवा प्रदाताओं से बातचीत की। इसी क्रम में वेक्टर जनित  रोगों  के  प्रति जागरूकता  और फाइलेरिया उन्मूलन को लेकर आयोजित “एक कदम ...फाइलेरिया उन्मूलन की ओर” के स्टाल पर पहुँच कर फाइलेरिया नेटवर्क के सदस्यों से बात की और फाइलेरिया उन्मूलन में उनके द्वारा किए जा रहे प्रयासों को ध्यान से सुना । इसके साथ ही उनके द्वारा जनजागरूकता के लिए समय निकालने के प्रयासों को सराहा ।  उन्होंने कहा “इस तरह के जन भागीदारी के प्रयासों से बीमारी को नियंत्रण करने में मदद मिलेगी।"
अपर निदेशक, मलेरिया, डॉ भानु प्रताप सिंह कल्याणी ने भी नेटवर्क सदस्यों से बात कर उनके द्वारा फाइलेरिया उन्मूलन कार्यक्रम में निभाई जा रहीं ज़िम्मेदारी और स्व देखभाल के तरीकों को बारीकी से जाना।

उन्होने बताया - फाइलेरिया रोग के खिलाफ 10 फरवरी से चलने वाले सर्वजन दवा सेवा अभियान की तैयारियां शुरू हो गई हैं। इसी क्रम में यह जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। मेले में इसके लिए हस्ताक्षर अभियान, सेल्फी पॉइंट, ह्यूमन चेन और नुक्कड़ नाटक जैसी गतिविधियां जन समुदाय को 10 फरवरी से चलने वाले एमडीए राउंड  में भागीदारी सुनिश्चित करने के उद्देश्य से की गई हैं । यहां सीएमओ, एसीएमओ, जिला मलेरिया अधिकारी समेत  अन्य स्वास्थ्य अधिकारी भी मौजूद रहे। 

मच्छर जनित रोगों से बचाव के बारे मे जागरूकता के लिए सहयोगी संस्थाओं के सहयोग से नुककड़ नाटक का मंचन भी हुआ। कलाकारों ने बहुत आकर्षक अंदाज में लोगों को न सिर्फ मच्छर जनित रोगो के प्रति जागरूक किया बल्कि उन्हें मच्छरों से बचने के उपाए जैसे साफ - सफाई रखने की आदत बनाना आदि के बारे मे भी  जागरूक किया और अंत मे 10 फरवरी याद रखना, फाइलेरिया की दवा जरूर खाना का संदेश भी दिया। मेले मे आए लोगों ने रुचिपूर्वक नाटक को देखा और अपने मोबाइल फोन मे रिकॉर्ड भी किया । 10 वर्षीय सोनू ने बताया कि मेरे घर में भी मच्छर बहुत लगते हैं। नुक्कड़ नाटक देखकर बहुत  जानकारीमिली। अब मैं भी अपने मम्मी-पापा से मच्छर से बचने के लिए इंतजाम करने के लिए कहूँगा। 

मेलार्थियों ने भी अपनी समस्याएँ नेटवर्क सदस्यों को बताई -

अटल स्वास्थ्य मेला में 18 नए फाइलेरिया मरीजों की भी पहचान हुई। उन्हें जांच के लिए फाइलेरिय क्लीनिक की जानकारी दी गई। यहाँ आए सुरेंद्र चंदन ने बताया कि पैर में कई वर्षों से लगातार सूजन बनी हुई है। कई निजी अस्पतालों में दिखाया लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ। इस मेले में पता चला कि मुझे फाइलेरिया है।

Tags: lucknow

About The Author

Latest News