जननायक कर्पूरी ठाकुर की 100 वीं जयंती वेटनरी ग्राउण्ड में 24 जनवरी को आयोजित की जाएगी - उमेश सिंह कुशवाहा

जननायक कर्पूरी ठाकुर की 100 वीं जयंती वेटनरी ग्राउण्ड में 24 जनवरी को आयोजित की जाएगी - उमेश सिंह कुशवाहा

पार्टी मुख्यालय में जदयू अतिपिछड़ा प्रकोष्ठ के तत्वावधान में प्रदेश कार्यकारिणी एवं जिलाध्यक्षों की एकदिवसीय बैठक आहूत की गई। पार्टी के माननीय प्रदेश अध्यक्ष श्री उमेश सिंह कुशवाहा, माननीय समाज कल्याण मंत्री श्री मदन सहनी एवं पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्री मंगनी लाल मंडल ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर बैठक का शुभारंभ किया। इसकी अध्यक्षता अतिपिछड़ा प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष डाॅ0 धर्मेंद्र चद्रवंशी एवं मंच का संचालन श्री शिवशंकर निषाद ने किया।

    बैठक को संबोधित करते हुए पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष श्री उमेश सिंह कुशवाहा ने कहा कि राजनीतिक रूप से ये समय बेहद महत्वपूर्ण है। 2024 का लोकसभा चुनाव दस्तक दे रहा है। 2025 के विधानसभा चुनाव में भी अधिक दिन शेष नहीं। हमारे राज्य में जातीय गणना कराने और उसके आंकड़ों के अनुरूप आरक्षण का दायरा बढ़ाकर 75ः करने जैसे ऐतिहासिक निर्णय हुए। श्री उमेश सिंह कुशवाहा ने कहा कि अतिपिछड़ा प्रकोष्ठ से पार्टी की अपेक्षा सबसे अलग और सबसे अधिक है और वो इसलिए क्योंकि अतिपिछड़ा वर्ग के उत्थान के लिए हमारे नेता ने अनगिनत और असाधारण कार्य किए हैं। जिसके परिणामस्वरूप यह समाज प्रारंभ से लेकर आज तक जदयू का सबसे महत्वपूर्ण आधार रहा है। उन्होंने कहा कि हमारे नेता ने विभिन्न पिछड़ी जातियों को एक वर्ग के रूप में नई पहचान दी। यह जाति से जमात की ओर बढ़ने की एक नई पहल थी और आज लोकसभा में जदयू के 16 में से 5 सांसद अतिपिछड़ा समाज से हैं। अभी हाल में सम्पन्न हुए जातिगत गणना को ही लें तो आप पाएंगे कि इसका सबसे अधिक लाभ अतिपिछड़ा समाज को होने वाला है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार के दृढ़ निश्चय का परिणाम है कि भाजपा और केन्द्र सरकार द्वारा हरसंभव बाधा पहुँचाने के बावजूद बिहार में जातिगत गणना का काम पूरा हुआ और ससमय उसके आंकड़े भी प्रकाशित कर दिए गए। विभिन्न जातियों की आबादी के अनुरूप बिहार में आरक्षण का दायरा अविलंब बढ़ाकर 75ः कर दिया गया।  इसके तहत अब बिहार में अतिपिछड़ा वर्ग को 25ः आरक्षण प्राप्त है साथ ही उन्होंने जानकारी देते हुए कहा कि 24 जनवरी को जननायक कर्पूरी ठाकुर जी की 100 वीं जयंती के दिन आयोजित किए जाने वाले जननायक कर्पूरी चर्चा के समापन समारोह को भव्य से भव्यतम बनाने के लिए अभी से तैयारी में लग जाएं। इसका आयोजन वेटरनरी काॅलेज ग्राउंड में किया जाएगा।

    समाज कल्याण मंत्री श्री मदन सहनी ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार ने बिहार की बागडोर संभालते ही नगर निकाय एवं पंचायती राज में अतिपिछड़ा समाज को आरक्षण की सुविधा प्रदान की लेकिन भाजपा के लोगो ने बीते वर्ष नगर निकाय में अतिपिछड़ा आरक्षण खत्म करने के लिए न्यायालय में याचिका दायर किया था। तब न्यायालय ने कहा था कि सरकार चाहे तो बिना आरक्षण के चुनाव करा सकती है लेकिन हमारे नेता ने ऐसा नहीं किया। उन्होंने ट्रिपल टेस्ट के कार्य को सम्पन्न करवाकर अतिपिछड़ा आरक्षण के साथ नगर निकाय चुनाव कराने का निर्णय लिया। श्री मदन सहनी ने कहा कि श्री नीतीश कुमार ने अतिपिछड़ों के लिए जो काम किया है उसे हम जनता के बीच पहुंचाना होगा। साथ ही भाजपा मुक्त भारत बनाने के लिए हमें जागरूक और एकजुट होना होगा। उन्होंने कहा कि 24 जनवरी को जननायक कर्पूरी चर्चा की जयंती पर आयोजित कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए हमें अभी से ही अपनी कमर कसनी है। जननायक कर्पूरी चर्चा पूरे बिहार के विधानसभा क्षेत्र में सफलतापूर्वक चलाया जा रहा है।

    पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्री मंगनी लाल मंडल ने कहा कि जाति व्यवस्था में भेदभाव, घृणा, असहिष्णुता, तिरस्कार और नफरत का भाव निहित है। उन्होंने कहा कि हम पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष का धन्यवाद देना चाहता हूं कि उन्होंने प्रदेशभर में जननायक कर्पूरी चर्चा का कार्यक्रम को चलाया। कर्पूरी ठाकुर कहते थे कि वोट का राज यानी छोट का राज। हमारा बिहार समाजवादी आंदोलन का प्रयोगशाला रहा है। उन्होंने कहा कि श्री नीतीश कुमार ने न्याय के साथ विकास किया है। उन्होंने वंचित-शोषित वर्गों को उचित अवसर दिया। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र जाति, गोत्र और खानदान कि लाठी से नहीं बल्कि जमात की राजनीति से चलेगा। श्री मंगनी लाल मंडल ने कहा कि भाजपा के लोग आरक्षण विरोधी हैं। जब जातीय गणना का रिपोर्ट प्रकाशित होता है तब मा0 प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कहते हैं कि देश में चार जाति है। उन्होंने पूछा कि अगर देश में केवल युवा, किसान, गरीब और महिला की जाति है तो श्री नरेंद्र मोदी खुद को अतिपिछड़ा जाति का क्यों बताते हैं? भाजपा आज तक यह तय नहीं कर पाया कि उनकी सामाजिक नीति क्या होगी। भाजपा ने श्री नीतीश कुमार के साथ छल किया। उन्होंने कहा कि 36 फीसदी अतिपिछड़ों को जात में बंटकर नहीं बल्कि जमात बनकर एकजुट रहना होगा।

   कार्यक्रम में मुख्य रूप से मौजूद विधानपरिषद के मुख्य सचेतक श्री संजय कुमार सिंह ‘‘गांधी जी’’, पार्टी के मुख्य प्रवक्ता सह माननीय विधानपार्षद श्री नीरज कुमार, महिला प्रकोष्ठ की प्रदेश अध्यक्ष श्रीमती भारती मेहता, पूर्व विधानपार्षद सह बेगूसराय जिलाध्यक्ष, श्री रूदल राय, श्री पप्पू निषाद, श्री रवि ज्योति बिल्लू, श्री अवधेश कुमार, श्री आशीष पटेल, श्री अनिमेष चंद्रा, श्री अमरनाथ चंद्रवंशी, श्री बंटी कुमार चंद्रवंशी, श्री ब्रजेश चोपड़ा, श्री पप्पू मुखिया, श्री नागेंद्र चन्द्रवँशी, श्री सुनील चन्द्रवँशी सहित सभी संगठन जिला के अतिपिछड़ा प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष एवं प्रदेशभर के पदाधिकारी उपस्थित रहे।

Tags:

About The Author

Latest News