उत्साह से मनाया गया काल भैरव का जन्मोत्सव, पूजा अर्चना करने लगी भीड़

उत्साह से मनाया गया काल भैरव का जन्मोत्सव, पूजा अर्चना करने लगी भीड़

धमतरी। धमतरी के अति प्राचीन किले के श्रीराम मंदिर स्थित धमतरी के कोतवाल बाबा काल भैरव का जन्मोत्सव श्री रामचंद्र मंदिर न्यास एवं समस्त भक्त मंडल द्वारा उत्साह और उमंग के साथ मनाया गया। इस अवसर पर मंदिर परिसर के पास भंडारे का आयोजन किया गया जहां सैंकड़ों लोगों ने प्रसादी पाई इतवारी बाजार स्थित किले के श्रीराम मंदिर स्थित धमतरी के कोतवाल बाबा काल भैरव के जन्मोत्सव पर पांच दिसंबर की सुबह से श्रध्दालु पूजा-अर्चना के लिए पहुंचते रहे। मंदिर परिसर में विविध कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जन्मोत्सव के चलते मंदिर परिसर को आकर्षक फूल-पताका से सजाया गया था। मंदिर परिसर में सुबह साढ़े आठ बजे श्रृंगार पूजन हुआ। इसके बाद महाप्रसादी वितरण (भंडारा) शुरू हुआ, जिसमें आसपास के वार्डवासियों के अलावा अन्य लोग प्रसादी ग्रहण करने पहुंचे। शाम को मंदिर समिति की अगुवाई में महाआरती हुई। इस अवसर पर मंदिर न्यास के अध्यक्ष दिग्विजय सिंह कृदत्त, सुदर्शन गुप्ता, विनीत गुप्ता, अभिषेक शर्मा, सूरज तिवारी, राजेंद्र श्रोती, आशीष शर्मा, विनीत गुप्ता, राजेश तिवारी, अभिमन्यु सिन्हा, संतोष सोनी सहित अन्य लोग मौजूद थे।

पुजारी अभिषेक शर्मा ने बताया कि यह अतिप्राचीन 52 भैरव मंदिरों में धमतरी का काल भैरव मंदिर प्रमुख है। यह मंदिर सैंकड़ों साल पुराना है। धमतरी से बस्तर के बीच यह बड़ा काल भैरव मंदिर है। इन मंदिरों की स्थापना पुराने समय में राज्य की रक्षा के लिए की जाती रही है। भगवान काल भैरव का सरसों तेल से अभिषेक किए जाने की परंपरा है। शनिवार व रविवार को दीप जलाने से मनोकामना पूर्ण हो रही है। धमतरी के अलावा आसपास के गांवों से लोग पूजा-अर्चना के लिए यहां पहुंचते हैं।

 

 

Tags:

About The Author

Latest News