गरज-चमक के साथ हल्की बारिश की संभावना

 गरज-चमक के साथ हल्की बारिश की संभावना

रायपुर। पश्चिमी विक्षोभ के साथ ही चक्रीय चक्रवात के प्रभाव से छत्तीसगढ़ के कुछ जगहों पर आज मंगलवार को गरज-चमक के साथ हल्की बारिश होने की संभावना है।प्रदेश के कुछ क्षेत्रों में हल्की से मध्यम वर्षा संभावित है। राजधानी रायपुर समेत कई जिलों में बादल छाए हुए हैं।आज सुबह से छाए कोहरे और ठंड ने संकेत दे दिया कि आने वाले दिसंबर माह में जमकर ठंड पड़ेगी। मौसम वैज्ञानिक एचपी चंद्रा के मुताबिक छत्तीसगढ़ में खाड़ी से आ रही ठंडी हवाओं के प्रभाव से रायपुर सहित प्रदेश में ठंड बढ़ने लगी है। रायपुर सहित प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में सोमवार सुबह से ही दिनभर बादल छाए रहे। बादल छाए रहने के कारण रायपुर में नवंबर में दिन का तापमान दस वर्षों में सबसे कम रहा है ।रायपुर का अधिकतम तापमान 26.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से तीन डिग्री सेल्सियस कम रहा। इसी प्रकार प्रदेशभर में सबसे ठंडा जांजगीर रहा। जहां न्यूनतम तापमान 9.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विभाग के अनुसार 29 नवंबर से न्यूनतम तापमान में गिरावट शुरू होगी और इससे ठिठुरन भी बढ़ेगी।

रायपुर सहित प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में न्यूनतम तापमान में बढ़ोतरी रही और अधिकतम तापमान में गिरावट आई। बिलासपुर का अधिकतम तापमान सामान्य से तीन डिग्री कम 25.4 डिग्री, पेंड्रा रोड का अधिकतम तापमान सामान्य से चार डिग्री कम 23.5 डिग्री और अंबिकापुर का अधिकतम तापमान सामान्य से तीन डिग्री 24.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है ।

Tags:

About The Author

Latest News

एसएनएमएमसी अस्पताल में लगी आग, मरीजों को सुरक्षित निकाला गया बाहर एसएनएमएमसी अस्पताल में लगी आग, मरीजों को सुरक्षित निकाला गया बाहर
धनबाद। जिले के शहीद निर्मल महतो मेडिकल कॉलेज अस्पताल में शुक्रवार की रात अचानक आग लग गई। आग लगने की...
स्पेन की महिला पर्यटक से सामूहिक दुष्कर्म , तीन गिरफ्तार
लोगों की हंसती-खेलती जिंदगी पर मौत का ब्रेक लगा रहे हैं सडकों पर बेतरतीब बने स्पीड ब्रेकर
राहुल की न्याय यात्रा के लिए ट्रेन से धौलपुर रवाना हुए अशोक गहलोत
खदान ढहने से डंपर समेत खान में गिरा चालक, 30 घंटे रेस्क्यू के बाद शव को बाहर निकाला
टीम तैयार, 10 उपाध्यक्ष, पांच महामंत्री, 13 प्रदेश मंत्री, एक कोषाध्यक्ष और एक सह कोषाध्यक्ष बनाया
मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय जशपुर के दौरे पर