सुबह 4 बजे से सर्दी में लाइन लगने के बाद भी नहीं मिल रहा किसानों को खाद

सुबह 4 बजे से सर्दी में लाइन लगने के बाद भी नहीं मिल रहा किसानों को खाद

मुरैना। जिले में इन दोनों गेहूं की फसल के लिए किसानों को यूरिया एवं डीएपी खाद की आवश्यकता है, लेकिन जिला प्रशासन जिले के किसानों को आसानी से खाद उपलब्ध कराने में पूरी तरह विफल दिखाई दे रहा है। खाद वितरण केन्द्रों पर सुबह 4 बजे से किसानों की लंबी लाइन लग जाती है और एक-एक दो-दो दिन तक उन्हें खाद नसीब नहीं हो रहा इसके बावजूद प्रशासन इस और कोई कार्यवाही नहीं कर रहा है। गुरुवार की सुबह कृषि उपज मंडी प्रांगण सहित अन्य खाद वितरण केन्द्रों पर ऐसे ही किसानों की लंबी कतारों के नजारे देखने को मिले। खाद वितरण में हो रही मनमर्जी के कारण किसान आक्रोशित नजर आए। एक किसान मेहरबान सिंह यादव जो कि विकलांग था, उसने बताया कि वह 20 किलोमीटर पैदल चलकर आया और सुबह टोकन दे दिया। बुधवार को तीन यूरिया एवं तीन डीएपी खाद के कट्टे मिल रहे थे, लेकिन आज दो डीएपी तीन यूरिया मिल रहे हैं, जब इस संबंध में अधिकारी कर्मचारियों से कहा गया तो उनका जवाब था कि यही आदेश है।

किसानों का कहना है कि वह सुबह 4 बजे से लाइन में लगते हैं, लेकिन दोपहर तक उनको खाद उपलब्ध नहीं हो पाया है। यही समस्या तमाम किसानों ने बताई और प्रशासन व्यवस्था पर जमकर सवाल उठाए। जिला प्रशासन कितने भी दावे कर रहा हो, लेकिन हकीकत कुछ और है, जिसे देखने की फुर्सत किसी के पास नहीं है। भरी सर्दी में किसान सुबह से घर से निकल रहे हैं और दो-दो दिन तक खाद के लिए चक्कर लगा रहे हैं।

Tags:

About The Author

Latest News