विदेशी मुद्रा भंडार 6.1 अरब डॉलर उछलकर 604.04 अरब डॉलर पर

विदेशी मुद्रा भंडार 6.1 अरब डॉलर उछलकर 604.04 अरब डॉलर पर

मुंबई/नई दिल्ली। आर्थिक र्मोचे पर अच्छी खबर है। विदेशी मुद्रा भंडार में लगातार तीसरे हफ्ते इजाफा हुआ है। देश का विदेशी मुद्रा भंडार एक दिसंबर को समाप्त हफ्ते में 6.1 अरब डॉलर उछलकर 604.04 अरब डॉलर पर पहुंच गया है। इससे पिछले हफ्ते में विदेशी मुद्रा भंडार अरब डॉलर बढ़कर 597.94 अरब डॉलर पर रहा था।

रिर्जव बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) ने शुक्रवार को जारी साप्ताहिक आंकड़ों में बताया कि एक दिसंबर को समाप्त हफ्ते में देश का विदेशी मुद्रा भंडार 6.1 अरब डॉलर उछलकर 604.04 अरब डॉलर रहा है। आंकड़ों के मुताबिक विदेशी मुद्रा भंडार के सबसे बड़े घटक विदेशी मुद्रा परिसंपत्ति 5.08 डॉलर की बढ़कर 533.06 अरब डॉलर हो गया है।

आरबीआई के मुताबिक इस दौरान स्वर्ण भंडार का मूल्य भी 99.1 करोड़ डॉलर उछलकर 47.33 अरब डॉलर हो गया है। वहीं, विशेष आहरण अधिकार (एसडीआर) 3.2 करोड़ डॉलर की उछाल के साथ 18.25 अरब डॉलर हो गया है। इसी तरह अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) के पास आरक्षित निधि 50 लाख डॉलर की बढ़त के साथ 4.85 डॉलर हो गई है।

इससे पहले रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) की द्विमासिक समीक्षा के नतीजे की घोषणा करते हुए कहा कि भारत का विदेशी मुद्रा भंडार एक दिसंबर, 2023 को 604 अरब डॉलर था। इससे हम अपनी बाहरी वित्त पोषण जरूरतों को सुगमता से पूरा कर सकते हैं। दास ने कहा कि अमेरिका में बॉन्ड प्रतिफल बढ़ने के बावजूद 2023 कैलेंडर साल में भारतीय रुपया में उतार-चढ़ाव अन्य अर्थव्यवस्थाओं की मुद्रा की तुलना में कम रहा है।

उल्लेखनीय है कि पिछले चार महीने में पहली बार विदेशी मुद्रा भंडार 600 अरब डॉलर के पार पहुंचा है। इससे पहले 11 अगस्त, 2023 को विदेशी मुद्रा भंडार 600 अरब डॉलर से ऊपर था। वहीं, अक्टूबर 2021 में देश का विदेशी मुद्रा भंडार उछलकर 642 अरब डॉलर के सर्वकालिक उच्चस्तर पर पहुंच गया था।

Tags:

About The Author

Latest News