जिले के होटल, ढाबा व लाज की हो रही जांच, खुले में पिलाई जा रही शराब

अवैध रूप से शराब पिलाने पर होगी कार्रवाई

जिले के होटल, ढाबा व लाज की हो रही जांच, खुले में पिलाई जा रही शराब

थाना कोतवाली, अर्जुनी एवं भखारा, नगरी, कुरूद, मगरलोड, क्षेत्रांतर्गत सभी थानों में होटल, ढाबा, लाज में हुई चेकिंग
धमतरी। सुरक्षा को दूरुस्त रखने जिला पुलिस ने हरसंभव प्रयास शुरू कर दिया है। इसके तहत पुलिस ने जिले में संचालित होटल, ढाबों की सघन जांच की। पुलिस की यह कार्रवाई जिले के चारों ब्लाक के प्रमुख होटलों में की गई। वहीं दूसरी ओर शराब दुकान के पास सुबह से लेकर देर रात खुले में चखना सेंटर में शराब पिलाने या पिलाने का सामान मुहैया कराया जा रहा है, जिसे देखकर पुलिस अनजान बैठी हुई है। लोगाें ने कार्रवाई की मांग की है। जिले में कानून व्यवस्था बनाए रखने व अवैध शराब तथा अनैतिक कारोबार को रोकने के लिए पुलिस टीम द्वारा गुरुवार को जिले के होटल, ढाबा व लाज की चेकिंग की गई। थाना सिटी कोतवाली, अर्जुनी, भखारा, कुरूद, नगरी, मगरलोड क्षेत्रांतर्गत स्थित सभी होटल, ढाबा व लाज में चेकिंग के दौरान कुछ खामियां मिली जिसे दुरुस्त करने कहा गया। इस दौरान सभी होटल व ढाबा संचालकों को अवैध रूप से शराब पिलाने व सामान उपलब्ध कराने पर कड़ी कार्रवाई किए जाने की चेतावनी दी गई।

अनैतिक कारोबार पर कड़ी कार्रवाई की हिदायत देते हुए आपराधिक गतिविधियों में संलिप्त व्यक्तियों को चिन्हित करने कहा। साथ ही उनके खिलाफ वैधानिक कार्रवाई करने की चेतावनी दी गई। चेकिंग के दौरान पुलिस ने होटल व लाज में बाहरी एवं संदिग्ध व्यक्तियों के ठहरने के संबंध में जानकारी ली। पुलिस की असामाजिक बुराइयों को रोकने की कार्रवाई लगातार जारी रहेगी। मालूम हो कि पुलिस अधीक्षक प्रशांत ठाकुर द्वारा सभी राजपत्रित अधिकारियों एवं थाना, चौकी प्रभारियों को जिले में शांति एवं कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए किसी भी प्रकार की सूचना मिलने पर त्वरित कार्रवाई करने एवं असामाजिक तत्वों एवं जुआ- सट्टा, अवैध शराब बिक्री की सूचना पर त्वरित कार्यवाही करने सख्त निर्देश दिया गया है।

शराब दुकान के पास सुबह से लेकर देर रात खुले में शराब पिलाने या पिलाने का सामान मुहैया कराया जा रहा है, जिसे देखकर पुलिस अनजान बैठी हुई है। अधिकांश मदिराप्रेमी शहर के आउटर में खुली शराब दुकान के पास के चखना सेंटर में शराब पीते देखे जा सकते हैं। यहां कार्रवाई नहीं होती। अगर मुस्तैदी से बिना ढोल पीटे कार्रवाई हो तो शहर के आउटर में खुले चखना सेंटर की सच्चाई दिख जाएगी। प्रेम कुमार यादव, डीके निर्मलकर, सोहन साहू ने कहा कि पुलिस व आबकारी विभाग को कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए। कार्रवाई के नाम चखना सेंटर ठेला को आसपास सड़क किनारे गिराकर चली जाती है।

 

 

Tags:

About The Author

Latest News

वरिष्ठ पत्रकार संपादक एवं प्रमुख समाजसेवी अलविदा कह गया, नाम आंखों से दी विदाई वरिष्ठ पत्रकार संपादक एवं प्रमुख समाजसेवी अलविदा कह गया, नाम आंखों से दी विदाई
अलीगढ़ । समाज कल्याण सेवा संस्थान ट्रस्ट  (रजि0) कार्य क्षेत्र -संपूर्ण भारत अलीगढ़ के द्वारा केंद्रीय कार्यालय कृष्णापुरी पर एक...
जोड़ी गदा कुश्ती के हरफनमौला रहे महाबली स्वर्गीय अदालत पहलवान की मनाई गई 5वीं पुण्यतिथि, किए गए याद
डाॅ बीपी त्यागी ने राष्ट्रवादी नवनिर्माण दल से दिया इस्तीफा, पार्टी से उनका अब कोई नाता नहीं
राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ कार्यकर्ता प्रशिक्षण वर्ग के समापन समारोह में पहुंचे सांसद अतुल गर्ग
वृद्धाश्रम में बुजुर्गों का कुशल क्षेम जानने पहुंची भावी अध्यक्ष सुषमा गुप्ता
नागरिक पुलिस को जनपद के पुलिस लाइन सभागार में दिया गया 01 दिवसीय प्रशिक्षण
विशेष अभियान के क्रम में प्रभारी निरीक्षक यातायात द्वारा की गई कार्यवाही