पंचकल्याणक महोत्सव: चौथे दिन भगवान का तप कल्याणक महोत्सव मनाया 

शामली- आचार्य विशुद्ध सागर महाराज ससंघ के सानिध्य, काँधला दिगंबर जैन समाज समिति के तत्वावधान में चल रहे छह दिवसीय पंचकल्याणक महोत्सव के चौथे दिन भगवान का तप कल्याणक महोत्सव धूमधाम से मनाया गया। नगर के रामलीला मैदान कैराना रोड पर अयोध्या नगरी के चल रहे पंचकल्याणक महोत्सव में सुबह के समय जाप्यानुष्ठान, अभिषेक, शांतिधारा, नित्य नियम पूजन, जन्मकल्याणक पूजन, नवग्रह शांति यज्ञ के कार्यक्रम सम्पन्न हुए इसके बाद महाराज श्री के मंगल प्रवचन हुए जिसके बाद तप कल्याणक के अंतर्गत बालक आदिकुमार से राजा बने भगवान ने मनुष्यों को असि, मसि, कृषि, शिल्प, वाणिज्य और कला की शिक्षाएं आमजन की जीवन यापन के लिए प्रदान की उन्होंने लोगों को ईमानदारी, अनुशासन व धर्म परायण में रहते हुए जीवन बिताने का संदेश दिया।
 
राजा के दरबार में नीलांजना का नृत्य देखकर वैराग्य उत्पन्न हुआ और दीक्षा लेने के लिए वन की ओर चल दिए। इसको देखकर माता मरु देवी अश्रुपूरित नेत्रों से भगवान को रोकने का प्रयास करती है। यह दृश्य देखकर पांडाल में उपस्थित श्रद्धालु भाव विभोर हो गए। वैराग्य के दृश्य से महिलाओं के नेत्रों से अश्रु धारा बहने लगी। आचार्य श्री विशुद्ध सागर जी महाराज ने श्रावक-श्राविकाओं को तप का महत्व समझाते हुए कहा कि तप कल्याण के समय भगवान आदिकुमार की पालकी को उठाने को लेकर देवताओं और मनुष्यों मे विवाद हो गया। दोनों वर्ग पालकी उठाना चाहते थे। देवता लोग संयम धारण नही कर सकते अतः ये अधिकार मनुष्यों का है।
 
इसलिए मनुष्यों को अपने जीवन की श्रेष्ठता को समझते हुए श्रेष्ठ तप द्वारा जीवन को सार्थक बनाना चाहिये। दोपहर में 32000 मांडलिक राजाओं की भव्य राज दरबार लगा और भगवान आदिकुमार का राज्याभिषेक किया गया। उसके पश्चात भव्य सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ प्रभु के वैराग्य दृश्यों का मंचन किया गया। किस प्रकार से राजा आदि कुमार को वैराग्य उत्पत्ति होती है और वह सांसारिक सुख को त्याग कर राजपाट को त्याग कर वन विहार कर लेते हैं कार्यक्रम को सफल बनाने में श्री दिगम्बर जैन समाज के साथ साथ श्री दिगम्बर जैन साधू सेवा समिति के समस्त पदाधिकारी व कार्यकर्ता अपनी जिम्मेदारी निभाते नजर आए।परिचय- कांधला में पंचकल्याणक महोत्सव के दौरान प्रवचन कर उपदेश देते श्री 108 विशुद्ध सागर जी महाराज ससंघ
 
 
Tags: Shamli

About The Author

Latest News