सावित्रीबाई ने अपने जीवन को मिशन की तरह जिया

सावित्रीबाई ने अपने जीवन को मिशन की तरह जिया

लखनऊ। देश की पहली महिला शिक्षिका सावित्रीबाई फुले की जयंती बुधवार को प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय पर कांग्रेसजनों ने मनाई। इस अवसर पर प्रदेश उपाध्यक्ष प्रभारी प्रशासन दिनेश सिंह ने सावित्रीबाई फुले के चित्र पर पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की।
 
उन्होंने बताया कि सावित्रीबाई फुले के कृतित्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि सावित्रीबाई फुले भारत के पहले बालिका विद्यालय की पहली प्रिंसिपल और किसान स्कूल की संस्थापक रहीं। सावित्रीबाई ने अपने जीवन को एक मिशन की तरह से जीया जिसका उद्देश्य था विधवा विवाह करवाना।
 
छुआछूत मिटाना, महिलाओं की मुक्ति और दलित महिलाओं को शिक्षित बनाना। वे एक कवियत्री भी थीं उन्हें मराठी की आदि कवियत्री के रूप में भी जाना जाता है। श्रद्धा सुमन अर्पित करने वालों में प्रमुख रूप से महिला कांग्रेस मध्य जोन की अध्यक्ष ममता चौधरी, लखनऊ जिलाध्यक्ष वेद प्रकाश त्रिपाठी, सुशीला शर्मा, शीला मिश्रा, प्रज्ञा सिंह, डॉ. रिचा कौशिक, संजय शर्मा, सिद्धि श्री सहित तमाम कांग्रेसजन शामिल रहे।
Tags: lucknow

About The Author

Latest News