महिलाएं शरीर में दिखने वाली अलग चीज को इग्नोर ना करें

महिलाएं शरीर में दिखने वाली अलग चीज को इग्नोर ना करें

नई दिल्ली। अधिकतर महिलाएं घर और बाहर के कामों में इतना ज्यादा बिजी हो जाती हैं कि खुद का ख्याल रखने का उनके पास टाइम ही नहीं होता। कई बार इसी लापरवाही के चलते महिलाओं को गंभीर समस्याओं का सामना करना पड़ता है। ऐसे में जरूरी है कि महिलाएं शरीर में दिखने वाली किसी भी अलग चीज को इग्नोर ना करें. आज हम आपको कुछ ऐसे संकेतों के बारे में बताने जा रहे हैं जिन पर ध्यान ना देने से महिलाओं को आगे चलकर कई तरह की गंभीर दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है।

आइए जानते हैं इन संकेतों के बारे में विस्तार से-
महिलाएं भूलकर भी इग्नोर ना करें ये चीजें-अचानक कमजोरी आना- शरीर में अचानक से कमजोरी आना स्ट्रोक की ओर इशारा कर सकता है. इसके अन्य संकेतों में शामिल हैं, अचानक कंफ्यूजन होना, जुबान का लड़खड़ाना, धुंधला दिखाई देना और चलने में दिक्कत होना. 

सांस लेने में लगातार दिक्कत होना- 
जब हमारे दिल को पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन नहीं मिल पाता तो सांस लेने में दिक्कत की समस्या का सामना करना पड़ता है. बता दें कि, पुरुषों की तुलना में महिलाओं को साइलेंट हार्ट अटैक का खतरा ज्यादा होता है, जिसके दो मुख्य लक्षण होते हैं सांस लेने में दिक्कत और बहुत ज्यादा थकान. एनीमिया और लंग डिजीज के कारण भी महिलाओं को सांस लेने में दिक्कत का सामना करना पड़ता है.छाती में दर्द- अगर आपको छाती में दर्द, तेज हार्टबीट और बाजू, कंधे और जबड़े में दर्द के साथ ही सांस लेने में दिक्कत हो रही है तो यह हार्ट कंडीशन की तरफ इशारा करता है.

देखने में दिक्कत- 
उम्र बढ़ने के साथ-साथ आंखों की रोशनी कम होने लगती है. लेकिन अगर आपको अचानक से दोनों आंखों से देखने में दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है यह स्ट्रोक का एक संकेत हो सकता है. इसी तरह, माइग्रेन से पीड़ित लोगों को चमकती रोशनी या यहां तक ​​कि रंगीन आभा का अनुभव हो सकता है. ऐसे में यह इस बात का संकेत हो सकता है कि आपका रेटिना फट गया है या अलग हो गया है. अगर इस समस्या का समाधान नहीं किया गया तो आप हमेशा के लिए अंधे भी हो सकते हैं.

वजन में अचानक बदलाव- 
बिना किसी कारण के वजन में अचानक से बदलाव आना किसी गंभीर समस्या की ओर इशारा करता है. कई बार थायरॉयड, डायबिटीज, साइकोलॉजिकल डिसऑर्डर, लिवर डिजीज और कैंसर के कारण भी इस समस्या का सामना करना पड़ता है. वहीं, अगर अचानक से आपका वजन बढ़ने लगा है तो यह थायरॉयड लेवल का कम होना, डिप्रेशन या मेटाबॉलिज्म कम होने की तरफ इशारा करता है.ब्रेस्ट में गांठ- महिलाओं के स्तनों में कुछ गांठ महसूस होना आम बात होती है. लेकिन अगर आपको चेस्ट की दीवार या स्किन पर कुछ गांठ या यहां की स्किन के साथ ही निप्पल के कलर में बदलाव नजर आ रहा है तो इसके लिए तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें. यह ब्रेस्ट कैंसर की ओर इशारा करता है.

बहुत ज्यादा स्ट्रेस और एंग्जाइटी- 
स्ट्रेस का सामना लगभग हर व्यक्ति को करना पड़ता है लेकिन इसका ये मतलब नहीं कि आप इसे नजरअंदाज कर दें. अगर आपको लगता है कि आपके स्ट्रेस का लेवल इतना ज्यादा बढ़ गया है कि आपके लिए इसे संभालना मुश्किल हो चुका है और इससे आपके रोजाना के कामों में दिक्कत हो रही है तो आपको जल्द से जल्द डॉक्टर के पास जाना चाहिए.पीरियड्स में बदलाव- पीरियड्स में छोटे-मोटे बदलाव होना आम बात होती है लेकिन अगर आपको कुछ भी अजीब लगता है तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें. पीरियड्स की मात्रा, समय, फ्लो में बदलाव आने पर आपको डॉक्टर को दिखाना चाहिए. अगर आपको मेनोपॉज के बाद भी ब्लीडिंग की समस्या का सामना करना पड़ता है तो इसके लिए भी डॉक्टर को जरूर दिखाएं.

About The Author

Tarunmitra Picture

‘तरुणमित्र’ श्रम ही आधार, सिर्फ खबरों से सरोकार। के तर्ज पर प्रकाशित होने वाला ऐसा समचाार पत्र है जो वर्ष 1978 में पूर्वी उत्तर प्रदेश के जौनपुर जैसे सुविधाविहीन शहर से स्व0 समूह सम्पादक कैलाशनाथ के श्रम के बदौलत प्रकाशित होकर आज पांच प्रदेश (उत्तर प्रदेश, बिहार, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश और उत्तराखण्ड) तक अपनी पहुंच बना चुका है। 

Latest News

थाईलैंड में यूपी का पर्यटन विभाग बनायेगा अपना पवेलियन थाईलैंड में यूपी का पर्यटन विभाग बनायेगा अपना पवेलियन
लखनऊ। 23 फरवरी से 03 मार्च, 2024 तक थाईलैंड में आयोजित किये जा रहे बुद्ध भूमि कार्यक्रम में प्रदेश क...
पवित्र शिव बाबा धाम के पर्यटन विकास कार्य हेतु जिलाधिकारी द्वारा किया गया निरीक्षण
26 फरवरी को होगी जिला सैनिक बन्धु की बैठक
29 फरवरी को होंगे मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह
डीएम ने परीक्षा केन्द्रो का निरीक्षण कर व्यवस्थाओं का लिया जायजा
ब्राजील में जी20 विदेश मंत्रियों की बैठक में शामिल हुए मुरलीधरन
क्षेत्रीय एवं वैश्विक महत्व के मुद्दों पर जयशंकर अगले महीने करेंगे कोरिया और जापान का दौरा