पुराने जर्जर मकान के तीसरी मंजिल का छत तोड़ते समय छत ढहा, एक की मौत दूसरा घायल 

जाना बाजार- अयोध्या। पुराने जर्जर मकान के तीसरी मंजिल का छत तोड़ते समय  छत ढह गया। इसके मालवे की चपेट में चार मजदूर आ गए। जिसमें दो मजदूरों ने किसी तरह भाग कर जान बचाई तो वही दो मजदूर वही बुरी तरह मलवे में दब गए। जिन्हें आधे घंटे से ज्यादा देर बाद  कड़ी मेहनत करके ग्रामीण और पुलिस वालों ने खोज निकाला। जिसमें एक की घटना स्थल पर मौत हो गई। दूसरा गंभीर रूप से घायल हो गया। घायल को प्राथमिक उपचार के बाद जिला चिकित्सालय भेजवाकर मृतक के शव को कब्जे में लेकर पुलिस ने पोस्टमार्टम को भेज दिया । एक ही परिवार के चारों मजदूर होने के चलते घर में कोहराम मच गया। महिलाएं बच्चे दहाड़े मार मार कर रोने लगी ।घटना के बाद जर्जर मकान की दिवाले में फटी दरारो को देखकर मोहल्लेवासी पूरी तरह भयभीत हैं।
 
मकान मालिक घर छोड़कर फरार होना बताया गया।घटना थाना क्षेत्र हैदरगंज के मुख्य कस्बा बाजार स्थित अखिलेश  कसौधन पुत्र शिव शंकर का है ।जो अपने पुराने जर्जर मकान की दीवाल छत को मजदूर लगाकर 2 दिनों से तोडवा रहा था। बृहस्पतिवार को मजदूर सूर्य बली यादव पुत्र जगन्नाथ 30 वर्ष ,मोहित यादव पुत्र शिवनारायण 19 वर्ष अविवाहित,राम जगत यादव पुत्र रामदीन 55 वर्ष ,शिवनारायण पुत्र रामदीन 35 वर्ष सभी मजदूर एक ही परिवार के ग्राम दहेमा जंगलवा थाना भीटी जनपद अंबेडकर नगर के निवासी हैं। घटना के दिन सुबह मकान मालिक अखिलेश ने दो लोगों को छत तोड़ने के लिए कहा और दो लोगों को ईंट का चट्टा लगाने के लिए। मोहित और राम जगत तीसरी मंजिल की छत तोड़ रहे थे।
 
इसी बीच लगभग 12:00 बजे के आसपास छत ढह  गया और उसकी चपेट में चारों मजदूर आ गये। किसी तरह से भाग कर ईंट इकट्ठा कर रहे दो मजदूर अपनी जान बचाने में सफल हुए। और दोनों दबे हुए मजदूरों को आधे घंटे से ज्यादा देर तक कड़ी मेहनत करने के बाद ग्राम वासियों और पुलिस ने खोज निकाला। मलवे से निकाले गए मजदूर राम जगत की घटनास्थल पर ही मौत हो चुकी थी जिन्हें सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रमवा कला ले जाया गया और चिकित्सक ने मृत घोषित कर दिया।और अविवाहित मोहित को गंभीर चोटकी स्थिति में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र हैदरगंज ले जाया गया।जहां पर प्राथमिक उपचार के बाद गंभीर स्थिति को देखते हुए फार्मासिस्ट एजाज खान ने जिला चिकित्सालय के लिए भेज दिया।
 
मृतक की पत्नी गीता के अलावा एक 10 वर्षीय पुत्र अंश है। जानकारी होने पर पहुंचे परिजन दहाड़े मार मार कर रोते रहे। थाना हैदरगंज के पहुचे दरोगा आलोक सिंह ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए पंचनामा कराकर भेज दिया। इस मौके पर पुलिस के दरोगा के अलावा कांस्टेबल दीपक यादव, अनुज ,संतोष कुमार , के के यादव ,अजीत के अलावा भारी संख्या में ग्रामीण मौजूद रहे ।घटना के संबंध में थाना अध्यक्ष हैदरगंज मोहम्मद अरशद ने बताया कि मृतक के शव का पंचनामा के कराकर पोस्टमार्टम के लिए भेजवा दिया गया है ।किसी की तरफ से कोई लिखित तहरीर नहीं मिली है। तहरीर मिलेगी तो कार्यवाही की जाएगी।
Tags: Ayodhya

About The Author

Latest News

बसपा प्रत्याशी ने की चुनाव आयोग से निष्पक्ष चुनाव की मांग बसपा प्रत्याशी ने की चुनाव आयोग से निष्पक्ष चुनाव की मांग
रामपुर: रामपुर लोकसभा सीट से बसपा प्रत्याशी ज़ीशान खान ने रामपुर में निष्पक्ष चुनाव के लिए मुख्य चुनाव आयुक्त को...
वर्तमान सरकार के सामने भाकियू ने ही निभाई विपक्ष की भूमिका:हसीब
हवन, यज्ञ, भण्डारे के साथ 9 दिवसीय अनुष्ठान सम्पन्न
डीएम ने निर्वाचन कार्यो की समीक्षा में दिए आवश्यक निर्देश
कठिन परिश्रम पर ही भाग्य निर्भर: सृष्टि मिश्रा
बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे पर फ्लाईओवर से तेज रफ्तार कार नीचे गिरी, चार घायल
यूपीएससी में 10वीं रैंक हासिल करने पर दक्ष फाउंडेशन ने ऐश्वर्यम प्रजापति का किया स्वागत