बिहार टॉपर घोटाले में बच्चा राय के ठिकानों पर छापेमारी में ईडी ने मंगवाई रुपये गिनने की मशीन

 बिहार टॉपर घोटाले में बच्चा राय के ठिकानों पर छापेमारी में ईडी ने मंगवाई रुपये गिनने की मशीन

 । प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने बिहार के वैशाली जिले में टॉपर घोटाले के मुख्य आरोपित अमित कुमार उर्फ बच्चा राय के ठिकानों पर शनिवार को की गयी छापेमारी में भारी मात्रा में नकदी मिलने का अनुमान है। ईडी ने छापेमारी के दौरान शाम पैसे गिनने की दो मशीन मंगवाई है।

बच्चा राय के वैशाली स्थित आवास और कॉलेज पर शनिवार को सुबह पटना से आई ईडी की 15 सदस्यीय टीम ने दबिश बनायी। भारी सुरक्षा के बीच भगवानपुर के किरतपुर राजाराम स्थित आवास और कॉलेज पर जांच चल रही है। इस दौरान कुछ कागजात भी बरामद किये जाने की सूचना है। हालांकि, इसकी अधिकारिक तौर पर जानकारी अब तक नहीं दी गयी है।

टॉपर घोटाले में ईडी ने बच्चा राय की 42 डिसमिल जमीन को अटैच किया था और ईडी ने उक्त जमीन पर अपना बोर्ड भी लगाया था लेकिन नियम कानून का उल्लंघन कर उक्त जमीन पर निर्माण कार्य कराया जा रहा है, जिसको लेकर ईडी ने भगवानपुर थाना में बच्चा राय पर 18 नवंबर को केस भी दर्ज कराया था और उसी मामले को लेकर यह रेड चल रही है।

बिहार का सबसे बड़ा शिक्षा माफिया रहा है बच्चा राय

वैशाली जिले में स्थित विशुन राय कॉलेज और उस कॉलेज का प्रिंसिपल बच्चा राय बिहार के शिक्षा महकमे में काबिज सबसे बड़े माफिया के तौर पर सामने आया था। बात 2016 की है जब पहली बार बिहार के शिक्षा महकमे में माफिया का खुलासा हुआ था। इसमें यह स्पष्ट हुआ था कि किस तरह शिक्षा माफिया पैसे के दम पर बिहार बोर्ड को टॉपर बनाने की फैक्टरी की तरह चला रहे हैं।

बच्चा राय कॉलेज में बच्चों को अच्छे नंबर दिलाने और टॉपर बनाने का सिंडिकेट चलाता था। एफआईआर होने के बाद बच्चा राय की गिरफ्तारी हुई और ईडी ने बच्चा राय के कॉलेज सहित उसके कई संपत्तियों को जब्त कर लिया था। अब ईडी ने बच्चा राय के खिलाफ एक बार फिर मामला दर्ज कराया है। ईडी के असिस्टेंट डायरेक्टर राजीव रंजन ने भगवानपुर थाने में जो आवेदन दिया है उसके अनुसार, ईडी की ओर से जब्त जमीन पर माफिया बच्चा राय ने दोबारा कब्जा कर लिया है।

Tags:

About The Author

Related Posts

Latest News