मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने की राजनीतिक दलों के साथ बैठक

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने की राजनीतिक दलों के साथ बैठक

जयपुर। राजस्थान विधानसभा चुनाव-2023 में मतगणना की तैयारियों को लेकर मुख्य निर्वाचन अधिकारी प्रवीण गुप्ता ने शनिवार को राजनीतिक दलों के साथ बैठक कर उन्हें मतगणना की समस्त तैयारियों से अवगत कराया। गुप्ता ने बताया कि पात्र एवं पर्याप्त संख्या में मतगणना अभिकर्ताओं की ही नियुक्ति सभी राजनीतिक दलों के द्वारा की जानी चाहिए। उन्होंने बताया कि मतगणना के दौरान एवं चुनाव के परिणाम घोषित होने के पश्चात कानून व्यवस्था की स्थिति नियंत्रित बनाए रखने के लिए बैरिकेडिंग, पुलिस बंदोबस्त, पार्किंग व्यवस्था आदि के लिए उचित प्रबंध जिला निर्वाचन अधिकारी के स्तर पर सुनिश्चित किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि जिला मजिस्ट्रेट द्वारा धारा 144 दंड प्रक्रिया संहिता के प्रावधानों के अनुसार मतगणना के पश्चात विजय जुलूस, हर्ष फायरिंग, डीजे वाहन का प्रयोग, वाहन रैली आदि जैसे आयोजनों पर रोक रहेगी। उन्होंने बताया कि मतगणना केन्द्र पर केवल अधिकृत पास-धारक व्यक्ति ही प्रवेश कर सकेंगे। मतगणना सेंटर पर प्रत्येक विधानसभा के लिए पृथक-पृथक मतगणना हॉल बनाए गये है, जहां आयोग के निर्देशानुसार टेबलों की व्यवस्था पोस्टल बैलेट एवं ईवीएम की मतगणना के लिए की गई है।

श्री गुप्ता ने बताया कि प्रदेश में गणना के लिये 2552 टेबल लगाए गए हैं। ईवीएम मतगणना हेतु कुल 4180 राउंड होंगे। सबसे अधिक 34 राउंड शिव विधानसभा क्षेत्र में तथा सबसे कम 14 राउंड अजमेर दक्षिण विधानसभा क्षेत्र में होगें। 199 विधानसभा क्षेत्रों मे मतगणना के लिए भारत निर्वाचन आयोग द्वारा 199 मतगणना पर्यवेक्षक नियुक्त किए गए है। प्रदेश में सर्विस वोटर्स की कुल संख्या 1,42,219 हैं, एक दिसम्बर तक 27,298 सर्विस वोटर्स के पोस्टल बैलट प्राप्त हो चुके हैं। मतगणना दिवस को प्रातः 8 बजे से पूर्व संबंधित रिटर्निंग ऑफिसर को प्राप्त सर्विस वोटर्स के पोस्टल बैलेट्स को मतगणना में शामिल किया जाएगा।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि स्ट्रॉन्ग रूम से मतगणना हॉल तक मशीनें पहुंचने के लिए विधानसभा क्षेत्र वार पृथक-पृथक मार्ग/ रास्ता/ व्यवस्था निर्धारित की गई है, जिसका सीसीटीवी कवरेज होगा। इलेक्शन ऑब्जर्वर के अतिरिक्त किसी को भी मतगणना हॉल में मोबाइल ले जाने की अनुमति नहीं है। केवल रिटर्निंग अधिकारी, सहायक रिटर्निंग अधिकारी और काउंटिंग सुपरवाईजर जो ईटीपीबीएमएस से जुड़े हैं, वह केवल ईटीपीबीएमएस सिस्टम ओपन करने के लिए ओटीपी के लिए मोबाइल ले जा सकेंगे तथा इसके पश्चात मोबाइल बंद कर प्रेक्षक, रिटर्निंग अधिकारी एवं सहायक रिटर्निंग अधिकारी के पास जमा कराएंगे। बैठक में 5 राजनैतिक दलों के 19 प्रतिनिधि उपस्थित रहे।

 

 

Tags:

About The Author

Latest News

धर्म और जाति के आधार पर अमेठी को बांटने आयेंगे राहुल गांधी, रहना होगा सचेत : स्मृति धर्म और जाति के आधार पर अमेठी को बांटने आयेंगे राहुल गांधी, रहना होगा सचेत : स्मृति
अमेठी। भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) की उम्मीदवार एवं केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने गुरुवार को जनसंपर्क करते हुए राहुल गांधी पर...
सूदखोरी से परेशान भाइयों ने मारी थी रालोद नेता को गोली, दोनों गिरफ्तार
बाराबंकी के मसौली में रेलवे ट्रैक के किनारे मिले प्रेमी युगल का शव
गोरखनाथ मंदिर में 21अप्रैल को होगी हनुमान जी के नव्य विग्रह की प्रतिष्ठा
चाइल्ड ट्रैफिकिंग मामले में सीआईडी डीजी हाई कोर्ट में हुए हाजिर
मतदाता सूची में 65 विद्यार्थियों ने दर्ज कराया अपना नाम
रिलीव करने के लिए मांगी 50 हजार, सीबीआई ने रेल पथ निरीक्षक को दबोचा