पाकिस्तान में बड़ा बम धमाका, इमरान खान की पार्टी के तीन सदस्यों सहित चार की मौत

पाकिस्तान में बड़ा बम धमाका, इमरान खान की पार्टी के तीन सदस्यों सहित चार की मौत

नई दिल्ली। पाकिस्तान के बलूचिस्तान क्षेत्र में एक बम विस्फोट में पूर्व पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान की पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के तीन सदस्यों सहित चार लोगों की मौत हो गई। यह विस्फोट इमरान खान को 10 साल जेल की सजा सुनाए जाने के कुछ घंटों बाद पार्टी द्वारा आयोजित एक रैली के दौरान हुआ। पीटीआई के बलूचिस्तान के प्रांतीय महासचिव सालार खान काकर ने पीटीआई के एक्स अकाउंट पर साझा किए गए एक वीडियो संदेश में कहा, "तहरीक-ए-इंसाफ के तीन कार्यकर्ता शहीद हो गए और 7 घायल हो गए।"

कहा जा रहा है कि साबी में तहरीक-ए-इंसाफ नेशनल असेंबली के उम्मीदवार सद्दाम तरीन की रैली में धमाका हुआ। इस रैली में शामिल तीन लोगों सहित चार की मौत की खबर है। इस धमाके के बाद आलम खान काकर ने ट्वीट किया जिसमें उन्होंने लिखा कि मैं विस्फोट की कड़ी निंदा करता हूं। ये सरकार विफल रही है।

हालांकि, सिबी में जिला मुख्यालय अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. बाबर ने पाकिस्तान के डॉन अखबार को बताया कि विस्फोट में पांच लोग घायल हो गए। रिपोर्ट के मुताबिक, घायल लोगों को अस्पताल ले जाया गया और अधिकारियों ने कहा कि उनमें से ज्यादातर की हालत गंभीर है और मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है।

वीडियो हो रहा वायरल
जिस वक्त बलूचिस्तान के सिबी इलाके में बम विस्फोट हुआ, वह कैमरे में कैद हो गया और दिख रहा है कि तेज आवाज के बाद पीटीआई के सदस्य हाथापाई कर रहे थे। पीटीआई नेता सालार खान काकर ने कहा कि यह विस्फोट पार्टी समर्थित उम्मीदवार सद्दाम तरीन द्वारा आयोजित एक चुनावी रैली में हुआ। उन्होंने कहा, ''हम इस दिल दहला देने वाली घटना की कड़ी निंदा करते हैं और मांग करते हैं कि पीटीआई कार्यकर्ताओं के बजाय आतंकवादियों को दबाने पर ध्यान दिया जाना चाहिए।'' यह विस्फोट आठ फरवरी को होने वाले आम चुनाव से ठीक नौ दिन पहले हुआ। पाकिस्तान के चुनाव आयोग ने कहा कि उसने घटना का संज्ञान लिया है और बलूचिस्तान के मुख्य सचिव और पुलिस प्रमुख से "तत्काल रिपोर्ट" मांगी है।

 

About The Author

Tarunmitra Picture

‘तरुणमित्र’ श्रम ही आधार, सिर्फ खबरों से सरोकार। के तर्ज पर प्रकाशित होने वाला ऐसा समचाार पत्र है जो वर्ष 1978 में पूर्वी उत्तर प्रदेश के जौनपुर जैसे सुविधाविहीन शहर से स्व0 समूह सम्पादक कैलाशनाथ के श्रम के बदौलत प्रकाशित होकर आज पांच प्रदेश (उत्तर प्रदेश, बिहार, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश और उत्तराखण्ड) तक अपनी पहुंच बना चुका है। 

Latest News