विवाह मुहूर्त खुलते ही सुनाई देने लगी डीजे, धुमाल की गूंज

मैरिज हाल, सामाजिक भवन की होने लगी बुकिंग

 विवाह मुहूर्त खुलते ही सुनाई देने लगी डीजे, धुमाल की गूंज

लंबे समय बाद मैरिज हाल धर्मशाला सहित अन्य भवनों की छुटपुट बुकिंग होने लगी
धमतरी। चार माह बाद मुहूर्त खुलने के बाद अब वैवाहिक कार्यक्रम सहित अन्य शुभ कार्यों में गति आएगी। शहर में स्थित मैरिज हाल व अन्य सामाजिक भवनाें की लोगों ने अब बुकिंग करनी शुरू कर दी है। इसी तरह शहर में संचालित डीजे संचालकों के पास भी विवाह को लेकर बुकिंग आने शुरू हो गई है। शहर के प्रमुख फूल विक्रेताओं का बाजार तेजी से चलने लगा है।

नवरात्र के बाद दीपावली फिर चुनाव होने से फूल विक्रेताओं के पास फूलों की मांग को लेकर पूछ-परख बढ़ गई है। फूल विक्रेता सत्यवान यादव ने बताया कि नवरात्र के समय से फूलों के व्यवसाय ने गति पकड़ी है। दीपावली पर्व के समय गेंदा, गुलाब व कमल फूल की मांग ज्यादा रही। चुनावी सीजन होने के कारण गेंदा फूल की मांग बढ़ी है। आने वाले दिनों में चुनाव परिणाम आने के बाद स्वागत सत्कार के लिए इन फूलों की फिर से मांग बढ़ेगी। इसके लिए अभी से तैयारी शुरू कर दी गई है। राजधानी रायपुर, भिलाई से फूलों का आर्डर पहले ही दे दिया गया है।

मैरिज हाल व सामाजिक भवनों में हो रही बुकिंग
हरदिहा साहू समाज भवन रत्नाबांधा रोड के सदस्य दिनेश कुमार साहू ने बताया कि आने वाली वैवाहिक तिथियां के लिए बुकिंग चल रही है। अभी यहां पांच बुकिंग हुई है। इसके अलावा अन्य व्यवसायिक कार्यक्रमों के लिए यहां बुकिंग होती रहती है। रुद्री रोड में संचालित आमंत्रण हेरिटेज के संचालक सदस्य डीपेंद्र साहू ने बताया कि आने वाली तिथियों के लिए अभी तक तीन बुकिंग हुई है। आने वाले दिनों में बुकिंग की संख्या बढ़ेगी। सिन्हा समाज भवन रत्नाबांधा रोड के प्रमुख संतोष कुमार सिन्हा ने बताया कि विवाह के लिए फिलहाल एक भी बुकिंग नहीं आई है। आने वाले महीने के बाद मैरिज हाल और सामाजिक भवनों में बुकिंग का आंकड़ा बढ़ेगा।

लंबे समय बाद अब मिल रहा काम
शिव डीजे सोरिद के संचालक रिकेश देवांगन ने बताया कि गणेश पक्ष के दौरान जिला प्रशासन द्वारा एक निश्चित समय में डीजे बजाने की अनुमति मिलने और उसके बाद चुनावी आचार संहिता के कारण डीजे का कार्य लगभग बंद पड़ गया था। आचार संहिता खुलने के बाद अब इस कार्य में गति मिली है। आने वाली वैवाहिक तिथियां के लिए डीजे की बुकिंग हो रही है। बृजेश डीजे मराठापारा के के संचालक बृजेश सिन्हा ने बताया कि आचार संहिता लगने और प्रशासन द्वारा तय समय सीमा में डीजे बजाने की अनुमति दिए जाने का व्यवसाय पर काफी असर पड़ा है। डीजे बजाने में तय समय का उल्लंघन करने के चलते कई डीजे संचालकों के सामान जब्त कर लिए गए जिससे उन्हें काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। कई ऐसे संचालक भी हैं जिन्होंने ऋण लेकर डीजे का सामान खरीदा है। पर्याप्त काम नहीं मिलने के कारण उनका काम रुका हुआ था। मुहूर्त खुलने के बाद छिटपुट शादी के आर्डर मिल रहे हैं। जिससे कार्य में गति आएगी।

Tags:

About The Author

Latest News

रिम्स में राज्य का पहला सर्जिकल स्किल और वेट लैब स्थापित रिम्स में राज्य का पहला सर्जिकल स्किल और वेट लैब स्थापित
रांची। रिम्स के क्षेत्रीय नेत्र संस्थान में राज्य का पहला सर्जिकल स्किल एवं वेट लैब स्थापित किया गया है। रिम्स...
मुख्यमंत्री चम्पाई सोरेन चार मार्च को जाएंगे गिरिडीह
मतदान के प्रति जागरूक करना हमारी नैतिक जिम्मेवारी: निदेशक
सीआईडी ने दो साइबर अपराधी को किया गिरफ्तार
जबलपुर इंजीनियरिंग कालेज को "टेक्नोलॉजी हब" बनाने की दिशा में हो क्रियान्वयन: मंत्री परमार
मंत्री कृष्णा गौर ने की गुफा मंदिर में महाशिवरात्रि आयोजन की तैयारियों की समीक्षा
अपने लोगों पर गर्व करने की परंपरा करनी होगी विकसित: उच्च शिक्षा मंत्री परमार