काशी तमिल संगमम में भाग लेने पहुंचा तमिल मेहमानों का अन्तिम जत्था

अंतिम दल में शामिल है व्यापारी एवं व्यवसायी, बनारस स्टेशन पर भव्य स्वागत

काशी तमिल संगमम में भाग लेने पहुंचा तमिल मेहमानों का अन्तिम जत्था

वाराणसी। काशी तमिल संगमम-2 में शामिल होने के लिए तमिल मेहमानों का अंतिम दल कावेरी शुक्रवार को वाराणसी पहुंचा। तमिल मेहमानों का बनारस स्टेशन पर वणक्कम कहकर स्वागत किया गया। स्टेशन पर ढोल-नगाड़े की थाप के बीच स्वस्ति वाचन और फूलों की वर्षा के बीच मेहमानों को होटल पहुंचाया गया। तमिल मेहमानों के स्वागत के लिए जिला प्रशासन एवं जनप्रतिनिधि मौजूद रहें।

इस दौरान अन्तिम दल में आए व्यापारी एवं व्यवसायी समूह के लोगों ने कहा कि हमें खुशी है कि हम सभी काशी में बाबा विश्वनाथ का दर्शन पूजन करेंगे और प्रयागराज संगम स्नान, अयोध्या प्रभु राम लला का दर्शन कर पा रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस तीन शहरों की यात्रा में हमें बहुत कुछ देखने और जानने को मिलेगा।इस यात्रा में मेहमानों को तमिलनाडु और उत्तर प्रदेश दोनों की कला संस्कृति की झलक दिखाई देगी। इसके आलावा उन्हें काशी विश्वनाथ धाम,काल भैरव मंदिर, सारनाथ, हनुमान घाट, गंगा आरती सहित अन्य स्थानों का भ्रमण करते हुए प्रयागराज और फिर अयोध्या का भी भ्रमण करेंगे।

मंदिर कराएगी दक्षिण भारत का अहसास
दक्षिण भारत से काशी आने वाले मेहमानों को तमिल महाकवि सुब्रह्मण्य भारती के घर और म्यूजियम का दीदार कराया जाएगा। काशी तमिल संगमम से जुड़े अफसरों के अनुसार केटीएस 2.0 जागरूकता पैदा करने, संपर्क कायम करने, लोगों के बीच आपसी संबंध स्थापित करने पर एवं सांस्कृतिक रूप से दो राज्यों में जुड़ाव पैदा करने पर केंद्रित रहा है।

Tags: Varanasi

About The Author

Latest News