अस्त होते सूर्य को पहला अर्घ्य देने के लिए उमड़ें लोग

अस्त होते सूर्य को पहला अर्घ्य देने के लिए उमड़ें लोग

जयपुर। बिहार, उत्तर प्रदेश और झारखंड में मनाया जाने वाला सूर्य उपासना का महापर्व डाला छठ पर रविवार को त्यागी व्रती डूबते सूर्य को अर्घ्य देकर छठी मैया का गुणगान किया गया। गलता तीर्थ समेत कई जगहों पर मेले सा माहौल रहा। गलता पीठाधीश्वर स्वामी अवधेशाचार्य के सान्निध्य में आयोजन हुआ। यहां शाम को गंगा आरती हुई, इसके बाद बिहार समाज बंधु और उत्तरांचल के लोग अस्ताचलगामी सूर्य को पहला अर्घ्य अर्पित किया। इस बार मुख्य आयोजन शास्त्री नगर स्थित स्वर्ण जयंती गार्डन के पीछे किशन बाग में हुआ।

गलता तीर्थ, किशनबाग सहित कई जगहों पर लोग डूबते सूर्य को पहला अर्घ्य अर्पित किया। समाजबंधु बांस की टोकरी और सूप में प्रसाद स्वरूप ठेकुआ, गन्ना, गागर (बड़ा नीबू), नाशपाती, सेव, केला, हल्दी, अदरक, मूली, नारियल, केराव, पान, सुपारी और मिठाई रखकर सूर्य भगवान को पहला अर्घ्य अर्पित किया। इसके बाद जगह-जगह रात्रि जागरण के कार्यक्रम हुए, इस बीच छठ मैया के गीत गूंजे। महोत्सव के चौथे दिन सोमवार को उगते हुए सूर्य को अर्घ्य देकर व्रत का समापन किया जाएगा।

राजस्थान बिहारी समाज संगठन के प्रदेश अध्यक्ष सत्यनारायण यादव ने बताया कि रविवार शाम को अस्ताचलगामी सूर्य को अर्घ्य दिया गया तथा सोमवार को उगते हुए सूर्य को अर्घ्य दिया जाएगा। रविवार के दिन में ही गलता तीर्थ ही श्रद्धालु डेरा डाला गया। शास्त्री नगर स्थित स्वर्ण जयंती गार्डन के पीछे किशन बाग, हसनपुरा की दुर्गा विस्तार कॉलोनी, दिल्ली रोड, प्रताप नगर, मालवीय नगर, रॉयल सिटी माचवा, मुरलीपुरा, आदर्श नगर, विश्वकर्मा, जवाहरनगर, निवारू रोड, झोटवाड़ा में लक्ष्मी नगर, कानोता, आमेर रोड, सोडाला, अजमेर रोड, हीरापुरा पॉवर हाउस, सिविल लाइंस, गुर्जर की थड़ी, आकेड़ा डूंगर पर सूर्य उपासना का महापर्व मनाया गया। यहां कृत्रिम जलाशयों पर अस्त होते सूर्य को अर्घ्य अर्पित किया गया।

गलता तीर्थ में भरा मेला
गलता तीर्थ में स्वामी अवधेशाचार्य के सान्निध्य में गंगा महाआरती हुई। तीर्थ में समाज जनों के लिए विशेष व्यवस्था की गई है। युवाचार्य स्वामी राघवेंद्र ने बताया कि व्रत करने वाले लोग अपने परिवारजनों के साथ गलता जी पहुंचे। शाम को गलता कुंड में खड़े होकर अस्ताचल गामी सूर्य को पहला अर्घ्य अर्पित किया गया। अगले दिन सोमवार को सुबह उगते हुए सूर्य को दूसरा अर्घ्य अर्पित करने के साथ ही व्रत का पारायण होगा। उन्होंने बताया कि गलता तीर्थ में डाला छठ को लेकर विशेष व्यवस्थाएं की गई है। साफ-सफाई के साथ सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम रहें।

वहीं झोटवाड़ा औद्योगिक क्षेत्र में स्थित अखंड महादेव मंदिर प्रांगण में छठ महापर्व का आयोजन किया गया। रविवार शाम यहां सांस्कृतिक प्रोग्राम का आयोजन किया गया। अखंड महादेव मंदिर समिति के अध्यक्ष पंडित रविंद्र मिश्रा और महामंत्री हरेंद्र सिंह ने बताया कि मंदिर समिति की तरफ से छठ पर्व करने वालों की सुविधाओं पर विशेष ध्यान रखा गया।

Tags:

About The Author

Latest News

Lok Sabha : बीजेपी के टिकट पर गुरदासपुर से लोकसभा चुनाव लड़ेंगे युवराज सिंह Lok Sabha : बीजेपी के टिकट पर गुरदासपुर से लोकसभा चुनाव लड़ेंगे युवराज सिंह
लोकसभा चुनाव 2024: पूर्व भारतीय क्रिकेटर युवराज सिंह ने गुरदासपुर से 2024 का लोकसभा चुनाव लड़कर राजनीति में प्रवेश करने...
गुप्त सूचना पर मोरेह के एलोरा होटल के सामान्य क्षेत्र में तलाशी अभियान चलाया
मौसम विभाग के अनुसार इस साल उत्तर और मध्य भारत में मार्च से ही लू चलने की संभावना…
दिल्ली आबकारी घोटालाः वाईएसआर कांग्रेस सांसद के बेटे राघव मगुंटा को सहकारी गवाह बनने की अनुमति
एफआईयू ने पेटीएम पेमेंट्स बैंक पर लगाया 5.49 करोड़ रुपये का जुर्माना
भोजपुरी भाषा का प्रतिनिधित्व करना मेरे लिए गर्व की बात : अंकुश राजा 
रिलीज के साथ वायरल हुआ अरविंद अकेला कल्लू का होली गीत “देवरन प दया करा”