पशुओं में होने वाली बीमारी, टीकाकरण वाहन को हरी झण्डी दिखाकर किया गया रवाना।

पशुओं में होने वाली बीमारी, टीकाकरण वाहन को हरी झण्डी दिखाकर किया गया रवाना।

संत कबीर नगर ,15 दिसम्बर 2023(सू0वि0)। विधायक मेहदावल अनिल त्रिपाठी  जिलाधिकारी महेंद्र सिंह तंवर, मुख्य विकास अधिकारी संत कुमार एवं सांसद प्रतिनिधि आनन्द कुमार त्रिपाठी द्वारा पशुपालन विभाग द्वारा संचालित खुरपका, मुहपका बीमारी टीकाकरण का शुभारंभ करते हुए पशुपालन विभाग की नव बहुउद्देशीय गाड़ियों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया। 
    विधायक मेंहदावल अनिल कुमार त्रिपाठी द्वारा बताया गया कि जनपद में कुल लगभग 228000 गोवंश महिषवंश पशु हैं जिनमे शत-प्रतिशत टीकाकरण किए जाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। राष्ट्रीय पशु रोग नियंत्रण कार्यकम के अन्तर्गत खुरपका-मुहपका टीकाकरण अभियान तृतीय चरण जनपद में प्रारम्भ किया जा रहा है। इस कार्यकम अर्न्तगत जनपद में समस्त गोवंशीय पशु एवं महिषवंशीय पशु का टीकाकरण (04 माह से छोटे एवं 08 माह से ऊपर ग्याबन पशुओं को छोड़कर) किया जाना है।
    जिलाधिकारी महेन्द्र सिंह तंवर ने बताया कि खुरपका-मुहपका एवं विषाणु जनित संक्रामक रोग है, जिसके संकमण में आ जाने के उपरान्त पशु को तेज बुखार आता है, मुह से लार गिरती है, मुह एवं पैरो में छाले पड़ जाते है, पशु चारा खाना छोड़ देता है, दुग्ध उत्पादन घटते-घटते शून्य हो जाता है। ग्यावन पशु बच्चा गिरा देता है और सही समय पर उपयुक्त इलाज नही दिया गया तो पशु की मौत भी हो सकती है। उन्होंने बताया कि इस रोग से बचाव हेतु टीकाकरण मात्र एक उपाय है। राष्ट्रीय पशु रोग नियंत्रण कार्यकम जो केन्द्र सरकार द्वारा पोषित है तथा राज्य सरकार द्वारा संचालित है, में समस्त पशुपालको के द्वार पर उनके पशुओं में निःशुल्क टीकाकरण किया जाता है। इस कार्यकम में टीकाकरण से पूर्व कान में छल्ला लगवाना (ईयर टैगिंग) अनिवार्य है।
    मुख्य पुश चिकित्साधिकारी द्वारा सभी पशुपालको से अपील की गयी है कि पशुपालन विभाग द्वारा चलाये जा रहे 45 द्विवसीय अभियान के दौरान टीकाकरण कर्मियों का सहयोग करते हुए अपने समस्त पशुओं में (04 माह से छोटे एवं 08 माह से ऊपर ग्याबन पशुओं को छोड़कर) टीका अवश्य लगवायें। 
    इस अवसर पर मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 यशपाल सिंह, उप निदेशक कृषि डा0 राकेश कुमार सिंह, जिला कृषि रक्षा अधिकारी शशांक, उप मुख्य पशु चिकित्साधिकारी, उप मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी मेहदावल तथा जनपद के समस्त पशु चिकित्सा अधिकारी आदि उपस्थित रहे।
 

Tags:

About The Author

Latest News