भीषण गर्मी में बीमार लोगों से भरे अस्पताल

भीषण गर्मी में बीमार लोगों से भरे अस्पताल

मेरठ। भीषण गर्मी के कारण लोग बीमार हो रहे हैं। डॉक्टरों के क्लीनिक और अस्पताल में बीमार लोगों की लाइन लगी है। डॉक्टरों ने लोगों से भीषण गर्मी में धूप से बचने की सलाह दी है।मई महीने में तापमान 40 डिग्री सेल्सियस को पार कर गया है। ऐसे में भीषण गर्मी लोगों से सहन नहीं हो रही है और वे बीमार हो रहे हैं। गर्मी में लोग उल्टी-दस्त, खांसी, गले में संक्रमण, वायरल बुखार, त्वचा रोग, पेट रोगों के शिकार हो रहे हैं। लाला लाजपत राय स्मारक मेडिकल कॉलेज की ओपीडी में मरीजों की लाइन लगी हुई है। इसी तरह से प्यारेलाल शर्मा मंडलीय जिला अस्पताल की ओपीडी भी बीमार लोगों से भरी हुई है। गंभीर हालत होने पर लोगों को अस्पताल में भर्ती किया जा रहा है।

मेडिकल कॉलेज की ओपीडी में प्रतिदिन लगभग चार हजार मरीज उपचार कराने के लिए आ रहे हैं। जबकि जिला अस्पताल में लगभग 1500 मरीजों की ओपीडी हो रही है। निजी डॉक्टरों और अस्पतालों की ओपीडी में भी मरीजों की लाइन लगी हुई है।न्यूटिमा अस्पताल के वरिष्ठ फिजिशियन डॉ. विश्वजीत बैंबी का कहना है कि भीषण गर्मी में लोगों को धूप में निकलने से बचना चाहिए। धूप में निकलने से पहले सिर को ढंक लेना चाहिए। इसी तरह से गर्मी में बासी खाना खाने से बचना चाहिए। लगातार पानी पीते रहे। लू से बचाव के उपाय करें। हालत खराब होने पर तत्काल डॉक्टरों की सहायता लें। सर्वोदय अस्पताल के संचालक डॉ. नगेंद्र ने भी लोगों को भीषण गर्मी से बचने की सलाह दी है।

Tags: Meerut

About The Author

Latest News

तापसी पन्नू ने बताई अनंत अंबानी की शादी में न जाने की वजह तापसी पन्नू ने बताई अनंत अंबानी की शादी में न जाने की वजह
उद्योगपति मुकेश अंबानी के छोटे बेटे अनंत अंबानी राधिका मर्चेंट के साथ शादी के बंधन में बंध गए। इस वक्त...
मध्‍यप्रदेश के 20 जिलों में आज तेज बारिश की संभावना, बड़ा तालाब में बढ़ा जलस्‍तर
 21 जुलाई के बाद स्मार्ट मीटर होंगे प्रीपेड
मुंबई में भारी बारिश से कई इलाकों में जलभराव, पश्चिम रेलवे यातायात बाधित
 मुख्यमंत्री साय आज जशपुर जिला के दाैरे पर
नेपाल बस दुर्घटना : तीन दिनों में सिर्फ 5 शव बरामद, हादसे के बाद कुल 65 लोग हुए थे लापता
नेपाल से प्रतिदिन 800 मेगावाट से अधिक बिजली खरीद रहा भारत