पहली महिला जज फातिमा बीवी को मरणोपरांत पद्म भूषण

पहली महिला जज फातिमा बीवी को मरणोपरांत पद्म भूषण

नई दिल्ली: राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने 9 मई को अपने-अपने क्षेत्रों में विशिष्ट सेवा और उच्चकोटि के प्रदर्शन करने वाले नागरिकों को पद्म पुरस्कारों से सम्मानित किया. राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने दिल्ली के राष्ट्रपति भवन में नागरिक अलंकरण समारोह के दौरान सुप्रीम कोर्ट की पहली महिला न्यायाधीश (दिवंगत) एम फातिमा बीवी को पद्म भूषण से सम्मानित किया. वहीं, राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू ने गुजरे जमाने की अभिनेत्री वैजयंती माला, चिरंजीवी को सिनेमा में दिए उनके उत्कृष्ट योगदान के लिए दूसरे सबसे बड़े नागरिक सम्मान पद्म विभूषण से सम्मानित किया. बता दें कि, विजेताओं की घोषणा इस वर्ष गणतंत्र दिवस के पूर्व संध्या पर की गई थी.

ये लोग हुए पद्म पुरस्कार से सम्मानित
बता दें कि, अभिनेत्री वैजयंतीमाला बाली, तेलुगु स्टार कोनिडेला चिरंजीवी, सुप्रीम कोर्ट की पहली महिला न्यायाधीश दिवंगत एम फातिमा बीवी और बॉम्बे समाचार के मालिक होर्मुसजी एन कामा उन प्रतिष्ठित व्यक्तियों में शामिल थे, जिन्हें राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने गुरुवार को पद्म पुरस्कार से सम्मानित किया.

पुरस्कार विभिन्न विषयों या गतिविधियों के क्षेत्रों में दिए जाते हैं
वहीं बीवी, कामा, राजगोपाल, विजयकांत, रिनपोचे और व्यास को पद्म भूषण से सम्मानित किया गया. इस अवसर पर उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह उपस्थित थे. देश के सर्वोच्च नागरिक सम्मानों में से पद्म पुरस्कार, तीन श्रेणियों, पद्म विभूषण, पद्म भूषण और पद्म श्री में प्रदान किए जाते हैं पुरस्कार विभिन्न विषयों या गतिविधियों के क्षेत्रों में दिए जाते हैं, जैसे कला, सामाजिक कार्य, सार्वजनिक मामले, विज्ञान और इंजीनियरिंग, व्यापार और उद्योग, चिकित्सा, साहित्य और शिक्षा, खेल, सिविल सेवा आदि.

पद्म विभूषण सम्मान
असाधारण और विशिष्ट सेवा के लिए पद्म विभूषण, उच्च कोटि की विशिष्ट सेवा के लिए पद्म भूषण और किसी भी क्षेत्र में विशिष्ट सेवा के लिए पद्म श्री प्रदान किया जाता है. पुरस्कारों की घोषणा हर साल गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर की जाती है. 2024 के लिए, राष्ट्रपति ने 132 पद्म पुरस्कार प्रदान करने की मंजूरी दी थी, जिसमें दो युगल मामले (एक युगल मामले में, पुरस्कार को एक के रूप में गिना जाता है) शामिल हैं. इस सूची में पांच पद्म विभूषण, 17 पद्म भूषण और 110 पद्म श्री पुरस्कार शामिल हैं. पुरस्कार पाने वालों में तीस महिलाएं हैं.सूची में विदेशी/एनआरआई/पीआईओ/ओसीआई श्रेणी के आठ लोग और नौ मरणोपरांत पुरस्कार विजेता भी शामिल हैं. जबकि आधे से अधिक पुरस्कार विजेताओं को 22 अप्रैल को पुरस्कार प्रदान किए गए, शेष को गुरुवार को पुरस्कार दिए गए.

अमित शाह ने रात्रिभोज का आयोजन किया
केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने आज (9 मई) राष्ट्रपति भवन में नागरिक अलंकरण समारोह के समापन के बाद अपने आवास पर पद्म पुरस्कार विजेताओं के लिए रात्रिभोज का आयोजन किया. इस दौरान अभिनेता राम चरण भी मौजूद रहे.

 

Tags:

About The Author

Tarunmitra Picture

‘तरुणमित्र’ श्रम ही आधार, सिर्फ खबरों से सरोकार। के तर्ज पर प्रकाशित होने वाला ऐसा समचाार पत्र है जो वर्ष 1978 में पूर्वी उत्तर प्रदेश के जौनपुर जैसे सुविधाविहीन शहर से स्व0 समूह सम्पादक कैलाशनाथ के श्रम के बदौलत प्रकाशित होकर आज पांच प्रदेश (उत्तर प्रदेश, बिहार, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश और उत्तराखण्ड) तक अपनी पहुंच बना चुका है। 

Latest News

कांग्रेस पार्टी एवं इंडिया गठबंधन की प्रचंड बहुमत से जीत की मनाई खुशी कांग्रेस पार्टी एवं इंडिया गठबंधन की प्रचंड बहुमत से जीत की मनाई खुशी
कौशाम्बी । जिले के चरवा नगर पंचायत में कांग्रेस पार्टी एवं इंडिया गठबंधन की प्रचंड बहुमत जीत की खुशी में...
सर्वोच्च न्यायालय के गुजारा भत्ता फैसले का मुस्लिम महिलाओं ने किया स्वागत
महिला थाना द्वारा 04 परिवारों के मध्य कराया गया सुलह समझौता
सुदिती ग्लोबल एकेडमी में शिक्षक, शिक्षिकाओं की कार्यशाला
कांवड़ यात्राओं के मद्देनज़र पुलिस -प्रशासन हुआ सजग
आयकर बाध्यताओं को लेकर जागरूकता कार्यक्रम आयोजित
INDIA गठबंधन को मिली प्रचंड जीत देश की जनता की जीत और भाजपा के मुंह पर करारा तमाचा : कांग्रेस