उड़ानों पर कब तक रहेगा असर? 90 फ्लाइट हुईं प्रभावित

उड़ानों पर कब तक रहेगा असर? 90 फ्लाइट हुईं प्रभावित

एयर इंडिया एक्सप्रेस: एयर इंडिया एक्सप्रेस के यात्रियों को अगले कुछ दिन मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है. क्योंकि एयर इंडिया एक्सप्रेस ने कई हड़ताली कर्मचारियों को टर्मिनेट कर दिया है. कंपनी ने उन्हें कार्टेल करके ऑपरेशन डिस्टर्ब करने और नियुक्ति शर्तों का उल्लंघन करने के लिए टर्मिनेट किया. आज से फ्लाइट ऑपरेशन सुचारू रखने और कम से कम कैंसिलेशन के लिए कुछ उड़ानें रद्द रखने का फैसला किया गया है. इसके अलावा, सीईओ ने आज टाउन हॉल की मीटिंग बुलाई है.

एयर इंडिया एक्सप्रेस की चिट्ठी

एयर इंडिया एक्सप्रेस ने सभी कर्मचारियों को चिट्ठी लिखी है. अपनी समस्या खुलकर डिस्कस करने को कहा है. Mass Sick Leave पर स्टाफ से पुनर्विचार करके कंपनी और यात्री के पक्ष में फैसला लेने का आग्रह है. मैनेजमेंट हर स्तर पर बातचीत के लिए तैयार है.

उड़ानों पर कब तक रहेगा असर? 

गौरतलब है कि 100 से ज्यादा क्रू मेंबर्स के अचानक सिक लीव पर चले जाने की वजह से एयर इंडिया एक्सप्रेस की उड़ानें कुछ दिन और प्रभावित रह सकती हैं. एयर इंडिया एक्सप्रेस के सीईओ आलोक सिंह ने कहा है कि एयरलाइन को उड़ानों में कटौती के लिए मजबूर होना पड़ा है. हालांकि, उन्होंने ये भी साफ किया कि कर्मचारियों से उनके मुद्दों पर बातचीत के तैयार हैं.

एयर इंडिया एक्सप्रेस से मांगी गई रिपोर्ट
इसी बीच, नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने पूरे मामले पर संज्ञान लेते हुए एयर इंडिया एक्सप्रेस से रिपोर्ट मांगी है. मंगलवार शाम से सिक लीव पर क्रू मेंबर्स के जाने की वजह से एयर इंडिया एक्सप्रेस की 90 फ्लाइट्स प्रभावित हुई हैं जिससे यात्रियों को परेशानी उठानी पड़ी है.

अचानक छुट्टी पर क्यों गए कर्मचारी?

कंपनी ने ताजा बयान में साफ कर दिया है कि क्रू मेंबर्स के अचानक बीमार होने की वजह से उड़ानों में आगे भी कटौती होगी. एयरलाइंस के सीईओ आलोक सिंह ने ने पूरे हालात को लेकर बयान जारी कर जानकारी दी है. उन्होंने बताया कि मंगलवार शाम से हमारे 100 से ज्यादा केबिन क्रू सहकर्मियों ने अपनी रोस्टर वाली उड़ान ड्यूटी से पहले आखिरी समय में बीमार होने की रिपोर्ट दी है. इससे हमारे ऑपरेशन में बाधा आई है.

90 फ्लाइट हुईं प्रभावित

चूंकि ऐसा ज्यादातर L1 भूमिका वाले सहकर्मियों की ओर से किया गया, जिसके कारण इसका बहुत ज्यादा असर हुआ. करीब 90 उड़ानें बाधित हुईं. ये व्यवधान पूरे नेटवर्क में फैल गया है, जिससे हमें अगले कुछ दिनों में शेड्यूल में कटौती करने के लिए मजबूर होना पड़ा है.

कंपनी का कहना है कि कर्मचारियों को किसी भी चिंता के बारे में चर्चा के लिए तैयार है. उधर पूरे मामले पर नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने एयर इंडिया एक्सप्रेस से रिपोर्ट मांगी है. साथ में मुद्दों का तुरंत हल निकालने का भी आग्रह किया है.

 

Tags: airindia

About The Author