धान का अवैध परिवहन रोकने पांच जगह पर बनाए गए हैं चेक पोस्ट

धान का अवैध परिवहन रोकने पांच जगह पर बनाए गए हैं चेक पोस्ट

धमतरी। समर्थन मूल्य में एक नवंबर से धमतरी जिले में धान की खरीदी हो रही है। इस दौरान धान का अवैध परिवहन होने की भी शिकायत मिलती है। इसे रोकने के लिए धान का अवैध परिवहन रोकने जिले में पांच जगह पर चेक पोस्ट बनाया गया है धमतरी जिले में धान का अवैध परिवहन को रोकने के लिए जिला प्रशासन द्वारा पांच जगहों पर नाकाबंदी की जा रही है। सीमावर्ती ओडिशा से आने वाले वाहनों की जांच के लिए बोराई में चार सीसी टीवी कैमरे भी लगाए गए हैं। राज्य शासन के निर्देश पर धमतरी जिले में एक नवंबर से धान खरीद हो रही है ।धान खरीद शुरू होते ही कुछेक सीमावर्ती क्षेत्रों में धान का अवैध तस्करी करने वाले लोग सक्रिय हो गए हैं। इन्हें रोकने के लिए जिले में पांच चेक पोस्ट बनाए गए हैं। जिसमें बोराई, ओडिशा बार्डर में है। यहां चार सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। बनरौद नाका और बांसपानी में कांकेर जिले से धान आने की आशंका बनी रहती है। इसलिए यहां में नियमित रूप से जांच हो रही है। ग्राम सांकरा व सिंगपुर में गरियाबंद जिले से धान तस्करी की संभावना को देखते हुए यहां भी चेकपोस्ट है।

मालूम हो कि जब से 20 क्विंटल प्रति एकड़ धान । की घोषणा हुई है, तब से तस्कर किसानों के खातों में दूसरी की धान को लाकर यहां खपाने की योजना बनती रही है। इसलिए प्रशासन द्वारा यह तैयारी की गई है। इस संबंध में धमतरी कलेक्टर ऋृतुराज रघुवंशी ने बताया कि धमतरी जिले में सुव्यवस्थित तरीके से सभी धान खरीदी केंद्रों में धान की खरीदी हो रही है। सभी जगह पर मंडी, नगर सैनिक, राजस्व विभाग के कर्मचारी तैनात हैं।

Tags:

About The Author

Latest News

भारतीय जनता पार्टी ओबीसी मोर्चा के तत्वाधान में कश्यप महासम्मेलन भारतीय जनता पार्टी ओबीसी मोर्चा के तत्वाधान में कश्यप महासम्मेलन
सहारनपुर-   भारतीय जनता पार्टी ओबीसी मोर्चा के तत्वाधान में "कश्यप समाज" महासम्मेलन का आयोजन हसनपुर चुंगी शिव मंदिर सहारनपुर में...
मैंगलौरा के वशिष्ठ इंटर कॉलेज में संपन्न हुआ वार्षिक उत्सव
सांसद ने किया निर्माणाधीन अमृत भारत रेलवे स्टेशन बनमनखी का निरीक्षण,अधिकारियों को दिया निर्देश
ग्रामीण छुट्टा जानवरों को लादकर ब्लाक मुख्यालय पहुंचे
भारत विकास परिषद के स्वास्थ शिविर में पहुंचे मेंदांता के चिकित्सक
जनपद 14 आयुर्वेद चिकित्सा अधिकारियों को एनआईसी में मिला नियुक्ति पत्र
आग लगने से आधा दर्जन से अधिक घर जलकर हुए राख