आईओसीएल परिसर में सड़क सुरक्षा जागरुकता कार्यशाला का आयोजन

आईओसीएल परिसर में सड़क सुरक्षा जागरुकता कार्यशाला का आयोजन

खूंटी। आईओसीएल, खूंटी परिसर में भारी मोटर वाहन चालकों के लिए सोमवार को सड़क सुरक्षा जागरूकता कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला में काफी संख्या में वाहन चालकों ने भाग लिया। कार्यक्रम के आईओसीएल खूंटी के महाप्रबंधक पल्लव कुमार ने कहा कि निर्धारित गति सीमा में वाहन का परिचालन आवश्यक है। उन्होंने कहा कि वाहन चलाते समय किसी भी स्थिति में यातायात नियमों का उल्लंघन नहीं किया जाना चाहिए। सड़क सुरक्षा के नियमों का पालन कर ही अपनी और अन्य की जान बचाई जा सकती है। मौके पर मोटरयान निरीक्षक शाह नवाज द्वारा रोड साइनेज, लाइसेंस, वाहन के महत्वपूर्ण मानकों के विषय में बताया गया कि वाहन का परिचालन से पूर्व वाहन के सभी तकनिकी एवं सुरक्षात्मक तथ्यों को जांच कर लेना आवश्यक होता है। उन्होंने कहा कि वाहन चालक द्वारा की गई गलती किसी के लिए जानलेवा भी साबित हो सकता है। उन्होंने चालकों से अपील की कि वाहन चलाते समय वाहन से सम्बंधित अद्यतन कागजातों को साथ में रख लेना चाहिए। साथ ही कभी भी शराब का सेवन कर वाहन ना चलाएं। उन्होंने कहा कि ऐसा कर आप खुद को और अन्य लोगों को सुरक्षित रख सकते हैं। उन्होंने बताया कि ज्वलनशील पदार्थ युक्त टैंकर के परिचालन के दौरान थर्ड पार्टी लीगल लाइबिलिटी ट्रांसिट इंश्योरेंस एवं हेजार्ड लाइसेन्स का होना अनिवार्य है।

कार्यक्रम में जिला सड़क सुरक्षा प्रबंधक द्वारा सड़क सुरक्षा, ट्रफिक लाईट, ब्लिंकर, रम्बल स्ट्रिप एवं ब्लैक स्पॉट के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई। साथ ही बताया गया कि कभी भी मौक़ा मिलने पर सड़क दुर्घटना पीड़ितों की सहायता कर उनकी जान बचाने का प्रयास किया जाना चाहिए। ऐसे नागरिकों को प्रोत्साहन राशि देकर सम्मानित करने का सरकारी प्रावधान है। सड़क दुर्घटनाओं के मामले में मुआवजा भुगतान का भी प्रावधान है। सड़क दुर्घटना के ऐसे मामले की जानकारी मिलने पर पीड़ित को आवेदन समर्पित करने के लिए प्रेरित किया जाना चाहिए। बताया गया कि सड़क सुरक्षा माह के दौरान जिला के सभी अस्पताल में नि:शुल्क नेत्र एवं स्वास्थ्य जांच शिविर का आयोजन किया ज रहा है। इसमें भाग लेकर नि:शुल्क जांच कराया जा सकता है। सड़क सुरक्षा माह के दौरान अलग-अलग जगहों पर सड़क सुरक्षा से संबंधित नुक्कड़ नाटक एवं सभी अस्पताल में निशुल्क नेत्र एवं स्वास्थ्य जाँच शिविर का आयोजन किया जा रहा है। साथ ही विभागीय निदेशानुसार बस स्टॉप के समीप बस चालक और कंडक्टर का यात्रियों के साथ व्यवहार कैसा हो विषयक पम्पलेटों का वितरण किया जा रहा है। इस अवसर पर सड़क सुरक्षा, खूंटी की टीम के रोड इंजीनियरिंग एनालिस्ट संदीप हेमरोम, सुमित तोपनो तथा आईओसीएल के कर्मी उपस्थित रहे।

 

 

Tags:

About The Author

Latest News