रामनाम है साचा गीत पर कलाकारों ने बहाया भक्ति की रसधार

एक से बढक़र एक प्रस्तुत हुए गीत पर देर शाम तक झूमते रहे श्रोता

रामनाम है साचा गीत पर कलाकारों ने बहाया भक्ति की रसधार

जौनपुर। मर्यादा पुरूषोत्तम भगवान श्रीराम की नगरी अयोध्या में रामलला मूर्ति की प्राण-प्रतिष्ठा के उपलक्ष्य में मंगलवार की शाम नगर के विसर्जन घाट पर रामनाम है साचा भजन संध्या कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जनपद ही नहीं बल्कि गैर जनपद से आए जाने-माने कलाकारों ने अपने भक्तिगीत से ऐसी रसधार बहायी कि श्रोता झूमने को मजबूर हो गए। तालियों की गडग़ड़ाहट से पूरा वातावरण गूंजायमान  हो गया। सर्व प्रथम कार्यक्रम की शुरूआत विद्वान आचार्यों ने मंत्रोच्चार एवं भगवान श्री राम के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्ज्वलन से किया। 

इसके बाद स्वागत गीत जनपद ही नहीं बल्कि पूरे पूर्वांचल के जाने-माने देवीगीत गायक राहुल पाठक एवं सविता पाठक ने संयुक्त रूप से वही गीत चला घर आए मेरे राम, स्वागत है श्रीराम सुनाया जिस पर दर्शक दीर्घा में बैठे लोगों ने करतल ध्वनियों से जोरदार स्वागत किया। इसके बाद सूर्य प्रकाश मिश्र ऊर्फ बल्ला गुरू, प्रवीण मिश्र, रामकृष्ण पाण्डेय, रमन सिंह लहरी, राजेन्द्र सुराज, नितेश सिंह रसिक व श्रेया सिंह के उप शास्त्रीय नृत्य से दर्शकों की आँखे फटी की फटी रह गयी। कार्यक्रम में श्रीराम परिवार की झांकी भी निकाली गयी जिसे दर्शकों द्वारा खूब पसंद की गयी। इसके बाद कलाकारों द्वारा भजन एवं भक्तिगीत की प्रस्तुति शुरू की गयी। जो लगभग नौ बजे रात्रि तक चली। 

02

कलाकारों द्वारा एक से बढक़र एक गाए गए गीत से श्रोता भक्ति की रस में गोता लगाते रहे। वादक कलाकारों में सुनील चार्ली, इम्तेयाज, अनूप साहू, युवराज मिश्र, अंकित चन्द्रा की प्रस्तुति भी बेमिसाल रही। कार्यक्रम में अतिथि के रूप में राज्यसभा सासंद श्रीमती सीमा द्विवेदी, सांसद श्याम सिंह यादव, पूर्व सांसद धनंजय सिंह, नगर पालिका परिषद के पूर्व अध्यक्ष दिनेश टंडन, नेहरू युवा संगठन के युवा नेता शतरूद्र प्रकाश, वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय पत्रकारिता विभाग के हेड डा0 मनोज मिश्र, तरुणमित्र समाचार पत्र के संपादक आदर्श कुमार, गौतम गुप्ता, धर्मेन्द्र तिवारी, सिद्धार्थ सिंह, डा0 अजय दूबे, अनिल उपाध्याय, प्रवीन तिवारी, धनंजय पाठक, सतीश चन्द्र शुक्ल सत्पथी, मंगला पाठक, ब्रह्मेश शुक्ल, राजकुमार सिंह, समाजसेवी विमला सिंह, भाजपा नेत्री डा0 अंजना सिंह, उर्वशी सिंह, प्रीति श्रीवास्तवा, शिक्षाविद् डा0 योगेन्द्र प्रताप सिंह, कृष्ण मुरारी पाठक, अमित परमार, नितेश दूबे, धनीराम, इन्द्र प्रकाश इन्दू, सूरज चौहान, उज्ज्वल कुमार, विकास, सोहराव, आदित्य मौर्य, ज्योति श्रीवास्तवा, राहुल, राणा सिंह आदि प्रमुख रूप से उपस्थित रहे। पूरे कार्यक्रम का सफल संचालन राहुल पाठक एवं डा0 विष्णु गौंड़ ने संयुक्त रूप से किया। अंत में आयोजन समिति द्वारा पूर्व सांसद धनंजय सिंह को अंग वस्त्रम्, सुन्दरकांड एवं स्मृतिचिन्ह देकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम शीश महल आर्ट एण्ड क्रिएशन एवं मीडिया पार्टनर हिन्दी दैनिक तरुणमित्र के सौजन्य से किया गया।

Tags: Jaunpur

About The Author

Tarunmitra Picture

‘तरुणमित्र’ श्रम ही आधार, सिर्फ खबरों से सरोकार। के तर्ज पर प्रकाशित होने वाला ऐसा समचाार पत्र है जो वर्ष 1978 में पूर्वी उत्तर प्रदेश के जौनपुर जैसे सुविधाविहीन शहर से स्व0 समूह सम्पादक कैलाशनाथ के श्रम के बदौलत प्रकाशित होकर आज पांच प्रदेश (उत्तर प्रदेश, बिहार, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश और उत्तराखण्ड) तक अपनी पहुंच बना चुका है। 

Latest News