फिट रहने के लिए किस पोजिशन में सोएं?

फिट रहने के लिए किस पोजिशन में सोएं?

भरपूर नींद : अच्छी सेहत के लिए रोजाना 7-8 घंटे की भरपूर नींद लेना अच्छा माना जाता है. ऐसा करने से तन और मन दोनों रिचार्ज हो जाते हैं. अगर आप किसी वजह से पूरी नींद नहीं ले पा रहे हैं तो फिर बीमार होते देर नहीं लगेगी. यही वजह है कि डॉक्टर भी फिट रहने के लिए भरपूर नींद लेने की सलाह देते हैं. लेकिन क्या आपको पता है कि बेड पर उल्टे-सीधे लेटकर कैसे भी सो जाना बॉडी को रिलेक्स करने का सही तरीका नहीं है. गलत पोजिशन में सोने से शरीर के अलग-अलग हिस्सों में दर्द हो सकता है. 

फिट रहने के लिए किस पोजिशन में सोएं?

झारखंड के रांची गवर्नमेंट हॉस्टिपटल में तैनात डॉक्टर विकास कुमार अपने सोशल मीडिया हैंडल पर हेल्थ अवेयरनेस से जुड़े टिप्स शेयर करते रहते हैं. अब उन्होंने सोने की पोजिशन पर काम की जानकारी अपने सोशल मीडिया पर शेयर की है. आइए जानते हैं कि शरीर को फिट रखने के लिए हमें किस पोजिशन में सोना चाहिए और किस चीज से बचना चाहिए. 
डॉक्टर विकास कुमार बताते हैं कि अधिकांश लोग हमेशा गलत तरीके से सोते हैं. जिससे हमारे गर्दन और कमर को नुकसान पहुंचता है. इसके साथ ही हमारी नींद भी खराब होती है और अगले शरीर बुरी तरह टूटा-टूटा सा महसूस करता है और पूरे दिन सुस्ती बनी रहती है. लिहाजा हमें अपनी नींद और सोने के तरीके पर खास ध्यान देना चाहिए. 

सोने के लिए अपनाएं ये तरीके
- कमर को सपोर्ट करने वाला गद्दा चुनें.- सबसे पहले कमर के बल लेटें.- अब पूरे शरीर को आराम दें.- फिर बाईं करवट में लेट जाएं और सोएं. 

सोते समय इन बातों का रखें ध्यान 

पीठ के बल सोने पर 

घुटनों के नीचे तकिया लगाएं. ऐसा करने से कमर की मांसपेशियां रिलैक्स होती हैं. यह भी ध्यान रखें कि गर्दन के नीचे जो तकिया लगाया जाए, वह केवल कंधों तक ही आए. 

करवट बदलकर सोने पर 

अगर आप करवट बदलकर सो रहे हों तो दोनों घुटनों के बीच में तकिया लगाएं. जिन्हें डिस्क/सायटिका की समस्या हो या कमर की नस दब रही हो तो वे ऊपर बताए दोनों तरीकों से ही सोएं.  

पेट के बल ज्यादा नहीं सोएं

पेट के बल ज्यादा नहीं सोना चाहिए. ऐसा करने से शरीर की पाचन प्रक्रिया पर विपरीत असर पड़ता है. अगर पेट के बल सो भी रहे हों तो पेट के निचले हिस्से में तकिया लगाना न भूलें. 

सोने के लिए सबसे बेहतरीन पोजिशन

स्लीप एक्सपर्टों के मुताबिक सोने के लिए सबसे बेहतरीन पोजिशन करवट बदलकर सोना माना जाता है. ऐसा करने से पेट की आंतों को काफी फायदा होता है और इससे स्लीप एपनिया जैसी बीमारी में भी राहत मिलती है. इस पोजिशन में सोने से पाचन प्रक्रिया भी बेहतर तरीके से काम करती है. 


 

Tags: sone

About The Author

Latest News

खुद के सम्मान का मार्ग प्रशस्त करना हो तो दूसरों को सम्मान दीजिए : सोनल नागर खुद के सम्मान का मार्ग प्रशस्त करना हो तो दूसरों को सम्मान दीजिए : सोनल नागर
नारी सशक्तिकरण की मिसाल बनकर उभरीं कांग्रेस महिला महानगर अध्यक्ष सोनल नागर, कम उम्र में पॉलिटिक्स में अगर कोई भी...
दुनिया भर के राष्ट्राध्यक्षों ने ट्रम्प पर हमले की निंदा की, कहा- राजनीति में हिंसा अस्वीकार्य
चुनावी रैली के दौरान अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति ट्रम्प पर गोलियां चलाई गई, शूटर ढेर
जीडीए ओएसडी गुंजा सिंह अपने कर्तव्यों के प्रति वफादार साबित हुईं
लठ तंत्र पर लोकतंत्र की यह बड़ी जीत: काजी निजामुद्दीन
बंगाल में दो नेताओं को मारी गोली, एक की मौत
लोक अदालत का किया गया भव्य आयोजन