योजनाएं धरातल पर उतरें, इसी प्रतिबद्धता के साथ सरकार कर रही काम : मुख्यमंत्री

योजनाएं धरातल पर उतरें, इसी प्रतिबद्धता के साथ सरकार कर रही काम : मुख्यमंत्री

रांची। मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने कहा कि सरकार की योजनाएं आपके दरवाजे पर इंतजार कर रही है। आप इन योजनाओं से जुड़कर खुद को सशक्त और स्वावलंबी बनाएं। सोरेन गुरुवार को गढ़वा जिले के मेराल प्रखंड में आपकी योजना-आपकी सरकार-आपके द्वार के तीसरे चरण के तहत आयोजित कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि इस योजना के तहत सभी पंचायतों में शिविर लगाए जा रहे हैं। मैं सभी शिविरों में तो नहीं जा सकता हूं लेकिन कुछ शिविरों में शामिल हो रहा हूं। इन शिविरों में पहुंच कर मैं यह देखने का प्रयास कर रहा हूं कि सरकार ने आपके लिए जो योजनाएं बनाई है, उसका लाभ वास्तव में आपको मिल रहा है या नहीं। योजनाएं धरातल पर उतरे, इसी प्रतिबद्धता के साथ सरकार काम कर रही है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में कई योजनाएं चल रही हैं और हर योजना अपने आप में खास है। ग्रामीण और शहरी पृष्ठभूमि में रहने वालों के लिए अलग-अलग योजनाएं हैं। हमारे राज्य की 80 प्रतिशत जनता गांवों में रहती है। ऐसे में किसानों, मजदूरों, आदिवासियों, दलितों और अल्पसंख्यकों के कल्याण के लिए कई योजनाएं चलायी जा रही है। इन योजनाओं का मकसद ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूत करना है। जब गांव मजबूत होगा तो हमारा राज्य भी मजबूत बनेगा, इसी सोच के साथ हमारी सरकार काम कर रही है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार हर किसी को सामाजिक सुरक्षा देने के लिए प्रतिबद्ध है। इसी बात को ध्यान में रखकर हमारी सरकार ने यूनिवर्सल पेंशन स्कीम लागू किया है। अब सभी बुजुर्ग , विधवा और दिव्यांग को पेंशन मिल रहा है। अब पेंशन के लिए विधवाओं और दिव्यांगों के लिए कोई उम्र सीमा की बाध्यता नहीं है। पांच वर्ष के दिव्यांग बच्चों को भी पेंशन दे रहे हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के बच्चों को अब पढ़ाई के लिए पैसे की चिंता नहीं करनी होगी। गरीब बच्चों को भी अब अच्छी और बेहतर शिक्षा देने के लिए कई कदम उठाए गए हैं। बच्चियों के लिए किशोरी बाई सावित्री फूले योजना है। बच्चों को परीक्षाओं की तैयारियों से लेकर विभिन्न कोर्सेज को करने के लिए आर्थिक सहायता दे रही है। गुरुजी क्रेडिट कार्ड योजना के तहत 15 लाख रुपये तक का शिक्षा ऋण दिया जा रहा है। इसका लाभ लेने के लिए आपको कोई गारंटी नहीं देनी होगी। सरकार आपकी गारंटर बनेगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकारी नौकरियों के साथ निजी क्षेत्र में भी बड़े पैमाने पर युवाओं को नियुक्ति पत्र दे रहे हैं। वहीं, जो स्वरोजगार करना चाहते हैं, उनके लिए मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना है। आप इस योजना के लिए आवेदन दें। आपको व्यवसाय के लिए सरकार की ओर से आर्थिक मदद की जाएगी। मेरा आपसे कहना है कि आप दूसरों के लिए मजदूरी नहीं करें, बल्कि अपना काम करें और दूसरों को भी रोजगार दें।

मुख्यमंत्री ने कहा कि मैंने पहले ही निर्देश दिया था कि आपकी योजना-आपकी सरकार-आपके द्वार कार्यक्रमों में आने वाले हर लाभुक को एक फलदार पौधा दिया जाय। आज मुझे बहुत खुशी है कि यहां आयोजित शिविर में लोगों के बीच लगभग 5000 फलदार पौधे वितरित किये गए। पौधा लगाने की जिम्मेवारी किसी एक व्यक्ति को नहीं दी जाए, बल्कि हर किसी को यह जिम्मा मिलना चाहिए। हम जितना ज्यादा से ज्यादा पेड़ लगाएंगे, वह पर्यावरण संरक्षण के दृष्टिकोण से तो अच्छा होगा ही, साथ में आपकी आमदनी का एक बेहतर जरिया भी बनेगा।

Tags:

About The Author

Latest News