लगातार अनुपस्थित 03 आशाओं की सेवा समाप्त के निर्देश

मुख्य सेविकाओं द्वारा टीकाकरण कैम्प चलाने पर सीडीपीओ का जवाब तलब

लगातार अनुपस्थित 03 आशाओं की सेवा समाप्त के निर्देश

शाहजहांपुर। जिलाधिकारी उमेश प्रताप सिंह की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक सम्पन्न हुयी। बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने स्वास्थ्य विभाग द्वारा संचालित कार्यक्रमों एवं योजनाओं की समीक्षा की तथा उनकी प्रगति के बारे में जाना। ब्लाक कलान में लंबे समय से अनुपस्थित रहने के कारण जिलाधिकारी ने 03 अशाओं की सेवा समाप्ति के निर्देश दिये। खराब प्रगति बाले ब्लाकों को प्रगति में सुधार करने के सख्त निर्देश दिये।मातृत्व वंदना योजना की मण्डल में रैंक 1 तथा प्रदेश में 10 रैंक होने पर जिलाधिकारी ने खराब प्रगति वालें ब्लाकों को सुधार करने के निर्देश दिये। उन्होने निर्देशित किया कि मातृत्व वंदना योजनान्तर्गत अधिक से अधिक रजिस्ट्रेशन करायें। आयुष्मान भारत योजना में 12 लाख के सापेक्ष 70.42 प्रतिशत प्रगति के साथ लगभग 8 लाख रजिस्ट्रेशन किये गये है।

जिलाधिकारी ने जिला पंचायत राज अधिकारी को निर्देशित करते हुये कहा कि पंचायत सहायकों को लगाकर सभी ब्लाकों में और अधिक रजिस्ट्रेशन करावए जाये। जिलाधिकारी ने 65 प्रतिशत से कम प्रगति वाले ब्लाकों की लिस्ट डीपीआरओं को उपलब्ध कराने के निर्देश दिये। फैमली प्लानिंग के अन्तर्गत भावलखेड़ा व ददरौल की खराब प्रगति को लेकर जिलाधिकारी ने अतिरिक्त कैम्प लगाकर प्रगति में सुधार करने के निर्देश सम्बन्धित अधिकारी को दिये।सीएमओ ने जानकारी देते हुये बताया गया कि प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान के अन्तर्गत जनपद में 17 प्राइवेट अल्ट्रासाउण्ड इम्पैनल किये जा चुके है तथा 07 प्रक्रियाधीन है। 4880 गर्भवती महिलाओं को निःशुल्क अलट्रासाउण्ड हेतु क्यूआर जनरेट किया जा चुका है।

राष्ट्रीय अंधत्व कार्यक्रम अन्तर्गत जिलाधिकारी ने निर्देशित किया कि इंटीरियर क्षेत्रो में कैम्प लगाकर जांच की जाये तथा कार्यक्रम का प्रचार प्रसार किया जाये। साथ ही उन्होने रजिस्टर मेंटेन करने के भी निर्देश संबधित अधिकारी को दिये। क्षय रोग अधिकारी ने जानकारी देते हुये बताया कि राष्ट्रीय क्षय उन्मूलन कार्यक्रम के अन्तर्गत 51 ग्राम पंचायतें क्षय रोग मुक्त हो चुकी है। सम्बन्धित अधिकारी द्वारा क्षय रोग उन्मूलन कार्यक्रम के सम्बन्ध में स्पष्ट जानकारी उपलब्ध न कराये जाने पर जिलाधिकारी ने कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुये कार्यक्रम के प्रति गंभीरता बरतने के निर्देश दिये।

फायलेरिया नियंत्रण के सम्बन्ध में एमओआईसी को बीडीओ के साथ फील्ड पर कार्य करने के निर्देश जिलाधिकारी ने दिये तथा स्कूलों में अभिभवकों के साथ मीटिंग कर प्रचार प्रसार करने के निर्देश दिये। इम्यूनाइजेशन टीकाकरण में जनपद में 1 रैंक होने पर जिलाधिकारी ने एमओआईसी को क्षेत्र में भ्रमण कर टीकाकरण का सत्यापन करने के निर्देश दिये तथा नियमित रूप से टीकाकरण कराने हेतु भी निर्देशित किया।बैठक में मुख्य विकास अधिकारी श्री एस बी सिंह, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा आर.के. गौतम, जिला पंचायत राज अधिकारी श्री घनश्याम सागर, सहित संबधित अधिकारी उपस्थित रही।

About The Author

Latest News