पीएम का युवाओं की आवाज कार्यक्रम को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिया छात्र छात्राओ ने सुना

सासाराम। विकसित भारत 2047 युवाओं की आवाज कार्यक्रम को सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नई दिल्ली से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से शुभारंभ किया ।इस अवसर पर गोपाल नारायण सिंह विश्वविद्यालय जमुहार  के देव मंगल सभागार में लगभग दो हजार की संख्या में युवा छात्र छात्राओं ने प्रधानमंत्री के ओजस्वी से संबोधन को सुना। प्रधानमंत्री द्वारा युवाओं को इस कार्यक्रम में शामिल होने के अनुरोध किए जाने पर आयोजित कार्यक्रम में शामिल छात्रों  ने ऊर्जा ग्रहण किया ।इस कार्यक्रम का उद्देश्य हमारे युवाओं को विकसित भारत का निर्माण करने के लिए एकीकृत करना है। प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में कहा कि विकसित भारत के हमारे सपने को साकार  करने के लिए भारत की युवा शक्ति पर पूर्ण विश्वास है ।उन्होंने कहा कि मेरा दृष्टिकोण देश के युवाओं को देश की राष्ट्रीय योजनाओं, प्राथमिकताओं और लक्ष्यों के निर्माण में सक्रिय रूप से शामिल करना है ।प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि विकसित भारत 2047 का लक्ष्य भारत को उसकी आजादी के सौवें  वर्ष में एक विकसित राष्ट्र बनाना है ।इस दृष्टिकोण में विकास के विभिन्न पहलुओं को शामिल किया गया है जिसमें आर्थिक विकास, सामाजिक प्रगति ,पर्यावरणीय स्थिरता और सुशासन शामिल है ।इस अवसर पर विश्वविद्यालय के सभी विभागों के शिक्षक एवं शिक्षकेत्तर कर्मचारी गण तथा छात्र शामिल हुए और प्रधानमंत्री के ओजस्वी उद्बोधन को सुना। कार्यक्रम के समन्वयक प्रबंधन संस्थान के वरीय शिक्षक राजीव रंजन एवं विश्वविद्यालय के जनसंपर्क पदाधिकारी भूपेंद्र नारायण सिंह ने इसे सुचारु रूप से संचालित किया ।इस अवसर पर परीक्षा नियंत्रक डॉक्टर कुमार आलोक प्रताप ,विभिन्न महाविद्यालयों के डीन ,शिक्षकगण ,कार्यालय अधीक्षक कुन्दन मिश्रा,कुलाधिपति  के निजी सचिव योगेश उपाध्याय ,स्टेट प्रभारी रवि रंजन गुप्ता एवं अन्य उपस्थित रहे।
Tags:

About The Author

Latest News