घर में लगा दिया ताला, मारा पीटाः न्याय दिलाने की मांग

घर में लगा दिया ताला, मारा पीटाः न्याय दिलाने की मांग

बस्ती - नगर थाना क्षेत्र के दुबखरा निवासी दुर्गा प्रसाद पुत्र स्वर्गीय सीताराम ने पुलिस अधीक्षक को पत्र देकर मारपीट के मामले में दोषियों के विरूद्ध मुकदमा दर्ज कराये जाने की मांग किया है।एसपी को भेजे पत्र में दुर्गा प्रसाद ने कहा है कि उनके पिता का निधन 20 वर्ष पूर्व हो चुका है। वह  पैतृक सम्पत्ति के 1/3 भाग का स्वामी है। उसकी माता शान्ती देवी, भाई लक्ष्मी प्रसाद, भाई की पत्नी सोनी देवी आये दिन सम्पत्ति को लेकर विवाद किया करते हैं। मकान के एक कमरे में उसे हिस्सा मिला है जहां वह परिवार के साथ गुजर बसर करता है। उक्त लोग उसे घर से निकाल देने का षड़यंत्र  कर रहे हैं। मजबूर होकर उसने गांव के बाहर खेत में दीवार जोड़वाकर टीन शेड डालकर मकान बनवाया है। सोमवार 24 जून को लगभग 7 बजे वह पैतृक मकान के कमरे में रखा सामान लेने गया तो उसके कमरे में दूसरा ताला लगा मिला। उसने ताला खोलने का अनुरोध किया तो लक्ष्मी प्रसाद व सोनी देवी उग्र होकर हमलावर हो गये और गालियां दी। लक्ष्मी प्रसाद ने ईटे से पैर की उंगली खून दिया। लक्ष्मी प्रसाद व सोनी देवी ने जान से मार देने की धमकी भी दिया। गोहार लगाने पर गांव के लोग पहुंचे और बीच बचाव किया।दुर्गा प्रसाद ने मामले में दोषियों के विरूद्ध मुकदमा पंजीकृत कराने के साथ ही अपने कमरे का ताला खोलवाने की मांग किया है।  11

Tags:

About The Author

Sarvesh Srivastava Picture

सर्वेष श्रीवास्तव, उत्तर प्रदेश के बस्ती जनपद के ब्यूरो प्रमुख

Latest News

डीएम और एसपी ने थाना समाधान दिवस पर समस्याओं के गुणवत्तापूर्ण निस्तारण का दिया निर्देश  डीएम और एसपी ने थाना समाधान दिवस पर समस्याओं के गुणवत्तापूर्ण निस्तारण का दिया निर्देश
बस्ती - आज शनिवार को जिलाधिकारी बस्ती रवीश गुप्ता व पुलिस अधीक्षक बस्ती गोपाल कृष्ण चौधरी द्वारा थाना नगर व...
कोतवाली सदर में डीएम-एसपी ने सुनी समस्याएं, दिए निस्तारण के निर्देश
भारत विकास परिषद मनवर शाखा की बैठक मंें पौधरोपण का निर्णय
ऑन लाइन हाजिरी के विरोध में 15 संगठनों ने बनाया प्रदेश स्तरीय संयुक्त मोर्चा
राष्ट्रीय क्षय रोग उन्मूलन कार्यक्रम के जागरूकता अभियान के तहत किया गया टीबी स्क्रीनिंग का आयोजन
विभागीय अधिकारी समस्या से वाकिफ, झाड़ रहे पल्ला
खून से लथपथ बालिका पहुची घर, माँ को सुनाई आपबीती