डॉक्टर ने अपनी पत्नी समेत दो बच्चों को मारकर खुद को लगाई फांसी

डॉक्टर ने अपनी पत्नी समेत दो बच्चों को मारकर खुद को लगाई फांसी

लालगंज/रायबरेली, कोतवाली क्षेत्र में एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। लालगंज क्षेत्र में  आधुनिक  रेल डिब्बा कारखाना में  एक डॉक्टर ने अपनी पत्नी समेत दो बच्चों को मारकर  खुद फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। जानकारी मिलने पर कोतवाली पुलिस टीम मौके पर पहुंचकर घटना की जानकारी ली। वही  पुलिस अधीक्षक आलोक प्रियदर्शी पहुंच गए। मौके पर फोरेंसिक टीम ने जाँच पड़ताल की। बताया जा रहा है डॉक्टर मानसिक रूप से परेशान था। जिसके कारण उसने यह कदम उठाया। 
पुलिस के मुताबिक रेल कोच फेक्ट्री में 2017 बैच  के असिस्टेंट डिवीजन मेडिकल ऑफिसर (आई स्पेशलिस्ट ) डॉ अरुण सिंह अपने परिवार के साथ रह रहे थे। जो डिप्रेशन की बीमारी से ग्रस्त थे। मौत से पहले कई तरह के इंजेक्शन लेने की बात सामने आई है। प्रथम दृष्टया बच्चों को नशे की कुछ चीजें खिलाकर बेहोश किया गया। जिसके बाद उनके सिर पर प्रहार करके मारा गया। फिर डॉक्टर द्वारा अपनी नशों को काटने का भी प्रयास किया गया। सफल न होने पर बाद में डॉक्टर ने कुर्सी की मदद से खुद को फांसी लगा ली। मौके पर 2 बच्चों के साथ साथ डॉक्टर की पत्नी का शव भी बरामद हुआ है। बच्चों में एक लड़की है जिसकी उम्र 14 वर्ष है तो वहीं लड़के की उम्र 4 साल बताई जा रही है। पुलिस ने घर का दरवाजा तोड़ कर अंदर प्रवेश किया । बताया जा रहा है कि पिछले 2 दिन से डॉक्टर साहब अस्पताल नही गए और ना ही किसी प्रकार का संपर्क हो पाया। तब उनके सहकर्मी उन्हें ढूंढते हुए यहाँ घर पहुंचे तो घर के अंदर की घटना की जानकारी हुई। फिलहाल पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और मौत का सही कारण पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही लग पाएगा।  डॉ. अरुण सिंह पुत्र  कैलाश सिंह,  पत्नी-अर्चना सिंह,पुत्री अदिवा 12वर्ष और लड़का आरव 4 वर्ष का है। निवासी फरदहा पोस्ट घाटमपुर थाना अहरौरा तहसील चुनार जनपद मिर्जापुर के रहने वाले बताए जा रहे हैं। मृतकों के परिजनों को सूचना दे दी गई है। सूचना पाकर परिवार में कोहराम मच गया। परिवार जनों का रो रो कर बुरा हाल है।
 
Tags:

About The Author

Latest News