सामाजिक सम्पर्क अभियान की संगोष्ठी में बोले पिछड़ा वर्ग मंत्री 

आजादी के बाद पहली बार मिला निषाद संस्कृति को सम्मान : नरेन्द्र कश्यप 

सामाजिक सम्पर्क अभियान की संगोष्ठी में बोले पिछड़ा वर्ग मंत्री 

लखनऊ। राजधानी के उत्तरी क्षेत्र में सामाजिक सम्पर्क अभियान के तहत सोमवार को सामाजिक संगोष्ठी में प्रदेश सरकार के पिछड़ा वर्ग कल्याण एवं दिव्यांगजन कल्याण मंत्री नरेन्द्र कश्यप ने कहा कि आजादी के बाद पहली बार निषाद संस्कृति को सम्मान मिला है। इसके लिए हम सभी मोदी और योगी सरकार के आभारी हैं। पुरनिया स्थित उत्तर क्षेत्र भाजपा कार्यालय में भाजपा प्रत्याशी राजनाथ सिंह के समर्थन में आयोजित बैठक का शुभारम्भ मुख्य अतिथि नरेन्द्र कश्यप और क्षेत्रीय विधायक डा. नीरज बोरा ने महर्षि कश्यप और निषादराज गुह के चित्र पर पुष्पार्पण के साथ किया। 

पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री ने कहा कि त्रेता में निषादराज गुह प्रभु राम के सखा रहे। कलियुग में वह भ्रातृत्व भाव मोदी और योगी सरकार से मिला है। पांच सौ करोड़ की लागत से सांस्कृतिक इतिहास की रचना हो रही है। निषादराज की 51 फीट की मूर्ति लग रही है। गाजियाबाद में एक करोड़ अट्ठावन लाख से महर्षि कश्यप की प्रतिमा स्थापित की गई है। अयोध्या का एयरपोर्ट महर्षि कश्यप के नाम पर किया गया है। भाजपा समरसता के भाव से काम करती है जहां विकास के साथ साथ विरासतों का संरक्षण भी किया जाता है। उन्होंने कहा कि राम के अस्तित्व को नकारने वाले, रामचरितमानस का अपमान करने वाले, उन पर गोलियां चलवाने वालों से कोई आस नहीं रखी जा सकती। पिछड़े वर्ग को समुचित सम्मान मिलने का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि मोदी मंत्रिमण्डल में 27 तो यूपी के 55 सदस्यीय मंत्रिमण्डल में 24 मंत्री ओबीसी समाज के हैं। सरकार द्वारा दी जाने वाली विभिन्न योजनाओं और उससे सुधरे जीवन स्तर की चर्चा करते हुए पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री ने कहा कि जो सरकार शिक्षा, चिकित्सा, रोजगार और सम्मान दे रही है उसे हर हाल में समर्थन दिया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि यूपी में चार चरणों के चुनाव में सभी सीट भाजपा जीत रही है। यूपी की सभी अस्सी सीटें हम जीतेंगे। सपा का खाता भी नहीं खुलेगा और बसपा की जमानत जब्त होगी। उन्होंने राजनाथ सिंह को सहज सरल बताते हुए यूपी के मुख्यमंत्री के रुप में, भाजपा अध्यक्ष के रुप में तथा केन्द्र सरकार के मंत्री के रुप में किये गये कार्यों को मील का पत्थर बताते हुए उन्हें भारी मतों से जिताने की अपील की।

विधायक डा. नीरज बोरा ने कश्यप, निषाद, केवट, मल्लाह, बिन्द, गौड़ आदि लोगों से अपना भावनात्मक एवं पारिवारिक रिश्ता बताते हुए कहा कि मेरे पूज्य पिता डी.पी.बोरा की पहचान मछुआरा समाज से थी। बड़े बड़े जाल लेकर हजरतगंज में प्रदर्शन हुए और उनके संघर्षों के कारण ही तब से आज तक गोमती नदी की नीलामी नहीं होती और निःशुल्क मछली मारने का काम निरन्तर जारी है। उनके द्वारा बसायी दो बस्तियां कश्यप नगर, निषादनगर आदि आज भी मौजूद हैं। उन्होंने कहा कि आज जब अयोध्या में प्रभु राम का मन्दिर बना है तो सबसे ज्यादा प्रसन्नता केवट समाज को है। डा. बोरा ने आह्वान किया कि बीस मई को लोग भारी संख्या में मतदान करें और एक एक वोट भाजपा को मिले ऐसा प्रयास हो।

कार्यक्रम में अरुण सिंह, भाजपा अवध क्षेत्र मत्स्य प्रकोष्ठ के संयोजक राधेलाल निषाद, ओबीसी मोर्चे के महानगर अध्यक्ष गणेश वर्मा ने भी अपने विचार रखे। इस अवसर पर पार्षद रणजीत सिंह, नीरज गौड़, अजय कश्यप, आदित्य गौड़, लक्ष्मी कश्यप, पूर्व पार्षद संतोष तेवतिया, अजय चौधरी, वीर बहादुर कश्यप, दिनेश गौड़, कुंजू निषाद, किशोर प्रजापति, नम्रता सिंह श्रीनेत, शैलेन्द्र स्वर्णकार, अनिल मिश्र, अमित मौर्य, शैलेन्द्र मौर्य सहित सैकड़ों लोग उपस्थित रहे।

Tags: lucknow

About The Author

Latest News

डीएम की अध्यक्षता व निर्देशन में जनपद की तीनों तहसीलों में सम्पूर्ण समाधान दिवस सम्पन्न डीएम की अध्यक्षता व निर्देशन में जनपद की तीनों तहसीलों में सम्पूर्ण समाधान दिवस सम्पन्न
गाजियाबाद। ( तरूणमित्र ) 22 जुलाई। डीएम इन्द्र विक्रम सिंह के निर्देशन में जनपद की तीनों तहसील में प्रत्येक माह...
एटम बम से खतरनाक साइबर अटैक : प्रकाश सिंह
द हंस फाउंडेशन ने नगर पालिका बालिका इंटर कॉलेज चन्द्रपुरी में हंस वेलनेस सेंटर का उद्घाटन किया
कांवड मार्ग पर दुकानों पर नाम लिखने के फैसले पर सुप्रीम कोर्ट ने लगाई रोक : इंद्रजीत सिंह टीटू
जाम से निजात हेतु एसडीएम ने सीओ को भेजा पत्र
निस्तारण में लापरवाही क्षम्य नही : अपर जिलाधिकारी
बकाया मूल्यांकन पारिश्रमिक का भुगतान एक सप्ताह में कर दिया जाएगा-डीआईओएस