भोरे के गोपालपुर में जन संवाद कार्यक्रम आयोजित

भोरे के गोपालपुर में जन संवाद कार्यक्रम आयोजित

गोपालगंज /सामान्य प्रशासन विभाग, बिहार सरकार के प्राप्त निदेश के आलोक में सरकार द्वारा चलायी जा रही विभिन्न लोक कल्याणकारी योजनाओं के संबंध में आमजनों को जानकारी प्रदान करने , उनके सुझाव एवं प्रतिक्रिया प्राप्त कर उनका निराकरण करने के उद्देश्य से प्रखण्डवार जनसंवाद बैठकों का आयोजन किया जा रहा है. विभागीय निदेश के आलोक में आज दिनांक 01.12.2023 को जिला पदाधिकारी डाक्टर नवल किशोर चौधरी की अध्यक्षता में जनसंवाद कार्यक्रम भोरे प्रखंड के गोपालपुर पंचायत के सरकार पंचायत के पास खुले मैदान  में किया गया .जिसमें जिला स्तरीय सभी वरीय पदाधिकारी तथा सभी विभागों के  पदाधिकारी उपस्थित हुये. इस संवाद बैठक में काफी संख्या में आसपास के गांवों के लोग एकत्रित थे. स्थानीय जनप्रतिनिधियों के साथ-साथ आस-पास के पंचायतों के  जनप्रतिनिधिगण‌ भी उपस्थित थे.सबसे पहले जिला पदाधिकारी,  उप विकास आयुक्त, अपर समाहर्त्ता, अनुमण्डल पदाधिकारी, गोपालगंज , सिविल सर्जन,  जिला भू-अर्जन पदाधिकारी, डी0आर0डी0ए0 के निदेशक एवं जिला पंचायती राज पदाधिकारी के द्वारा दीप प्रज्जवलित करके कार्यक्रम का शुभारंभ और उद्धाटन किया गया. उक्त कार्यक्रम में सभी विभागों द्वारा अपने-अपने विभाग में चल रही योजनाओं के बारे में बताया गया. साथ ही बताया गया कि किस योजना का लाभ आमजन को कैसे मिल सकता है.जिला पदाधिकारी द्वारा बताया गया कि  सभी योजनाओं की सफलता तथा उनके विषय में अगर किन्हीं  को कोई शिकायत हो तो वे अपने-अपने क्षेत्र के प्रखंड कार्यालय, अनुमंडल कार्यालय तथा जिला कार्यालय में संपर्क करें.सभी शिकायतों का समाधान शीध्र ही किया जायेगा.
 
अन्त में जिला पदाधिकारी महोदय के द्वारा अपने सम्बोधन में आमजनों को बताया गया कि व्यक्ति के जीवन में मूलतः पांच चीजें यथा रोटी, कपड़ा, मकान, स्वास्थ्य एवं शिक्षा परम आवश्यक है. सरकार ने इनकी प्रतिपूर्ति की पूरी व्यवस्था की है. जनवितरण प्रणाली के माध्यम से 80 प्रतिशत लोगों को राशन मुहैया कराया जा रहा है.रोजी-रोजगार की समुचित व्यवस्था से कपड़ा की प्रतिपूर्ति है. प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण एवं मुख्यमंत्री ग्रामीण आवास योजना के माध्यम से जरूरतमन्द लोगों को पूर्ति की जा रही है.अब कहीं भी फूस का मकान मिलना सम्भव नहीं है. अस्पतालों में चिकित्सक एवं दवा की उपलब्धता सुनिश्चित करायी गयी है. साथ ही सभी स्वास्थ्य उपकेन्द्रों पर टेलीमेडिसिन की व्यवस्था सुनिश्चित करायी गयी है .जिससे गरीब और मजदूर वर्ग के लोगों को इलाज के लिये शहरों में नहीं जाना पड़ता है. शिक्षा हेतु प्रत्येक गांवों और पंचायतों में प्राथमिक विद्यालय एवं मध्य विद्यालय एवं उच्च विद्यालय खोले गये हैं फुलवरिया प्रखंड में सरकार के द्वारा गोपालगंज जिले की विकास के निमित कई महत्वपूर्ण योजनाएं संचालित करने जा रही है. जिससे   भोरे प्रखण्ड के लोग भी सीधे लाभान्वित होगें. उनके द्वारा जानकारी दी गयी कि मुख्यमंत्री ग्राम परिवहन योजना द्वारा गोपालपुर, सिसई ,बगाहवा मिश्र , जगतौली तथा लामीचौर पंचायत में लाभवान्वित व्यक्तियों को परिवहन विभाग द्वारा कुल 24 लाभार्थीयों में कुल 16.50 लाख रूपये का लाभ दिया गया. अल्पसंख्यक कल्याण विभाग, बिहार द्वारा मुख्यमंत्री विद्यार्थी प्रोत्साहन योजना का लाभ बिहार विद्यालय परीक्षा समिति/बिहार राज्य मदरसा बोर्ड, पटना से इण्टरमीडीएट/मौलवी परीक्षा में प्रथम श्रेणी से उत्तीर्ण मुस्लिम छात्राएँ को प्रति लाभार्थी 15000/-(पन्द्रह हजार) रूपये, कुल 154 लाभुकों में 23.10 लाख रूपये वितरित किया गया.  अल्पसंख्यक छात्रावास योजना के माध्यम से अल्पसंख्यक बालक छात्रावास तुरकाहाॅ, गोपालगंज में 100 बेड आवासन क्षमता का संचालित किया गया.जिसमें मुफ्त खाद्यान्न योजना, Free Wi-Fi, लाईब्रेरी की व्यवस्था तथा पानी पीने हेतु RO की व्यवस्था की गई है. लोक स्वास्थ्य प्रमंडल, गोपालगंज द्वारा ग्रामीण पाईप जलापूर्ति योजना के माध्यम से  28571लाभार्थियों में 414.2 करोड़ रूपया का लाभ दिया गया.   मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना के तहत कन्या भ्रूण हत्या रोकना, कन्या के जन्म को प्रोत्साहित करना, बालिका शिशु मृत्यु दर को कम करना तथा बाल विवाह पर अंकुश लगाने के लिए 0 से 01 वर्ष कन्या शिशु जन्म पंजीकरण हेतु 2000 रू0 तथा आधार पंजीकरण हेतु 1000 रू0 दिया जाता है.  मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना उपलब्धि गोपालपुर, सिसई, बगहवा मिश्र , जगतौली तथा लामीचौर पंचायत में कुल 141 लाभार्थी है. प्रधानमंत्री मातृ वन्दना योजना के तहत पहली मां बनने वाली गर्भवती महिला को प्रथम किस्त 3000रू0 तथा द्वितीय किस्त 2000रू0 एवं दूसरी कन्या शिशु के जन्म पर 6000रू0 दिया जाता है.   मुख्यमंत्री ग्रामीण पेयजल निश्चय योजना अंतर्गत हर घर नल का जल भोरे प्रखंड में कुल 28572 लाभार्थियों में 14.2 करोड़ रू0 का लाभ दिया गया.  अन्त में जिला पदाधिकारी महोदय ने आमजनों एवं जनप्रतिनिधिगण से सहयोग की अपेक्षा करते हुये उनके सुझाव एवं प्रतिक्रिया उपलब्ध कराने का आमंत्रण दिया गया.
Tags:

About The Author

Latest News

सरकार की छवि धूमिल होते देख करणी सैनिकों ने एआरटीओ को दिया अल्टीमेटम सरकार की छवि धूमिल होते देख करणी सैनिकों ने एआरटीओ को दिया अल्टीमेटम
अलीगढ़। एआरटीओ प्रवेश कुमार यादव की मिली भगत से हो रहा है। अवैध और चोरी की बाइक और स्कूटर पर...
इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन को लेकर राज ठाकरे ने कहा ”ईवीएम की जगह बैलेट पेपर से वोटिंग होनी चाहिए
UP: सिपाही भर्ती पेपर लीक: जाने कहां से हुई चूक
टेक्नॉलाजी युग के साथ हमको आगे बढ़ना ही होगा : राज्यपाल दत्तात्रेय
वित्त मंत्री सीतारमण ने बिट्स पिलानी के पांचवें परिसर का उद्घाटन किया
लोकसभा चुनाव को देखते हुए बीजेपी मुख्यालय में पांच राज्यों की कोर ग्रुप की बैठक बुलाई
प्रशिक्षण प्राप्त करने के बाद सभी फेलोज को प्रदेश के 100 चयनित पिछड़े नगरीय निकायों में भेजा जाएगा