बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट का काम भी तेजी से 

Bullet train project work also going on fast

 बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट का काम भी तेजी से 

नई दिल्ली. kjhgfदेता रहता है, जिससे ये अंदाजा लगाया जा सकता है कि लोगों का इंतजार कब खत्म होने वाला है. इसी कड़ी में रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव  ने अपने एक्स (पूर्व में ट्विटर) हैंडल के जरिए बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट के काम को लेकर अपेडट दिया है.
रेल मंत्री ने बताया कि 21 नवंबर, 2023 तक 251.40 किलोमीटर में पिलर्स बने हैं और एलिवेटेड सुपर स्ट्रक्चर 103.24 किलोमीटर में बन चुके हैं. अपडेट के साथ रेल मंत्री ने एक वीडियो भी शेयर किया है जिसमें दिखाया गया है कि बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट का काम वलसाड (गुजरात), नवसारी (गुजरात), सूरत (गुजरात) और वडोदरा (गुजरात) और आनंद (गुजरात) में चल रहा है.
साल 2015 में हुई थी बुलेट ट्रेन चलाने की घोषणा
गौरतलब है कि साल 2015 में मुंबई से अहमदाबाद के बीच बुलेट ट्रेन शुरू करने की घोषणा की गई थी. इस प्रोजेक्ट का शिलान्यास सितंबर 2017 में किया गया.
बुलेट ट्रेन के लिए कुल 3 डिपो
बुलेट ट्रेन के लिए कुल तीन डिपो बनेंगे. एक महाराष्ट में और 2 गुजरात के सूरत और साबरमती में.

3 घंटे में मुंबई से अहमदाबाद
जानकारी के मुताबिक, बुलेट ट्रेन 320 किलोमीटर प्रति घंटे की स्पीड से दौड़ेगी और ये भारत की सबसे तेज चलने वाली ट्रेन बनेगी. ये दोनों शहरों के बीच सफर में लगने वाले समय को 6 घंटे से घटाकर 3 घंटे कर देगी.

About The Author

Latest News