थम जाएगा चुनाव-प्रचार का शोर, मोदी-शाह समेत भाजपा के कई बड़े नेता भरेंगे हुंकार

थम जाएगा चुनाव-प्रचार का शोर, मोदी-शाह समेत भाजपा के कई बड़े नेता भरेंगे हुंकार

जयपुर। राजस्थान विधानसभा चुनाव के लिए गुरुवार शाम छह बजे प्रचार का शोर थम जाएगा। 25 नवम्बर को प्रदेश की 199 विधानसभा सीटों पर सुबह सात बजे से मतदान होगा जो शाम छह बजे तक चलेगा। तीन दिसंबर को मतगणना होगी। चुनाव प्रचार के आखिरी दिन भाजपा के कई बड़े नेता अपनी ताकत झोंकेंगे। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी दोपहर साढ़े बारह बजे आरजी स्टेडियम देवगढ़ में जनसभा को संबोधित करेंगे। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह सुबह 11 बजे होटल ललित में मीडिया से मुखातिब होंगे। बाद में निम्बाहेड़ा में जनसभा करेंगे। महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस आज सांगानेर और आदर्श नगर क्षेत्र में रोड शो करेंगे।

वहीं, केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह सहाडा, राजगढ़, लक्ष्मणगढ़, अलवर में जनसभा करेंगे। असम के सीएम हेमंत बिस्वा सरमा विद्याधर नगर और सिविल लाइन क्षेत्र में रोड शो कर सुजानगढ, चित्तौड़गढ़ में जनसभा करेंगे। महाराष्ट्र के सीएम एकनाथ शिंदे हवामहल क्षेत्र में रोड शो करेंगे। इसके बाद मनोहरपुर, कोटपूतली में जन सभाओं को संबोधित करेंगे। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ झोटवाड़ा में रोड शो और राजाखेडा में चुनावी सभा करेंगे। जबकि मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान रामगंजमंडी और पीपल्दा में जनसभा करेंगे। भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी, सांसद मनोज तिवारी, पूर्व सीएम वसुंधरा राजे, बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सीपी जोशी, केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत, राज्यसभा सांसद किरोड़ी लाल मीणा भी अलग-अलग विधानसभा में जनसभाओं को सम्बोधित करेंगे।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी प्रवीण गुप्ता ने बताया कि राजस्थान विधानसभा आम चुनाव-2023 के अंतर्गत होने वाले मतदान के लिए आज शाम 6 बजे से प्रचार-प्रसार थम जाएगा। लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम, 1951 की धारा 126 के अनुसार मतदान की समाप्ति के लिए नियत किए गए समय के साथ समाप्त होने वाले 48 घंटों की अवधि 23 नवंबर को सायं 6 बजे से आरम्भ होकर मतदान समाप्ति अवधि 25 नवंबर को सायं 6 बजे तक प्रभावी रहेगी। गुप्ता ने बताया कि निर्वाचन मशीनरी और पुलिस प्रशासन की ओर से इन निर्देशों की पालना सुनिश्चित करने के आयोग ने निर्देश दिए हैं, जिसमें सामुदायिक केन्द्रों, धर्मशालाओं या वो जगह जहां बाहरी व्यक्तियों को ठहराया जाता है, उनकी निगरानी करने, गेस्ट हाऊस/लॉज/होटलों में ठहरने वाले व्यक्तियों की जानकारी लेने, बाहर से आने वाले वाहनों पर निगरानी रखने के लिए चेकपोस्ट स्थापित करने आदि कार्यवाही शामिल है।

Tags:

About The Author

Latest News

Lok Sabha : बीजेपी के टिकट पर गुरदासपुर से लोकसभा चुनाव लड़ेंगे युवराज सिंह Lok Sabha : बीजेपी के टिकट पर गुरदासपुर से लोकसभा चुनाव लड़ेंगे युवराज सिंह
लोकसभा चुनाव 2024: पूर्व भारतीय क्रिकेटर युवराज सिंह ने गुरदासपुर से 2024 का लोकसभा चुनाव लड़कर राजनीति में प्रवेश करने...
गुप्त सूचना पर मोरेह के एलोरा होटल के सामान्य क्षेत्र में तलाशी अभियान चलाया
मौसम विभाग के अनुसार इस साल उत्तर और मध्य भारत में मार्च से ही लू चलने की संभावना…
दिल्ली आबकारी घोटालाः वाईएसआर कांग्रेस सांसद के बेटे राघव मगुंटा को सहकारी गवाह बनने की अनुमति
एफआईयू ने पेटीएम पेमेंट्स बैंक पर लगाया 5.49 करोड़ रुपये का जुर्माना
भोजपुरी भाषा का प्रतिनिधित्व करना मेरे लिए गर्व की बात : अंकुश राजा 
रिलीज के साथ वायरल हुआ अरविंद अकेला कल्लू का होली गीत “देवरन प दया करा”