नेट परीक्षा के लिए आवेदन करने की डेट बढ़ी

नेट परीक्षा के लिए आवेदन करने की डेट बढ़ी

नई दिल्ली। कॉलेजों में असिस्टेंट प्रोफेसर और जेआरएफ की नौकरी करना चाहते हैं तो आपको UGC NET की परीक्षा पास करनी पड़ेगी। इस परीक्षा को नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) आयोजित करता है। साल में ये परीक्षा दो बार होती है। पहला जून के महीने में और दूसरा दिसंबर में। जून महीने में जो परीक्षा करवाई जानी है उसके लिए एप्लिकेशन फॉर्म भरे जा रहे हैं। 10 मई यानी आज इस परीक्षा के लिए आवेदन करने की अंतिम तिथि थी लेकिन NTA ने UGC NET 2024 जून के लिए आवेदन प्रक्रिया की तारीख बढ़ा दी है। अब इस परीक्षा के लिए रेजिस्ट्रेशन करने की अंतिम तारीक 15 मई है। जिन उम्मीदवारों ने अभी तक इस परीक्षा के लिए आवेदन नहीं किया था या किसी कारण वश भूल गए थे, वे अभी भी अप्लाई कर सकते हैं। 

अप्लाई करने के लिए इस वेबसाइट पर जाएं
यूजीसी नेट की परीक्षा फॉर्म भरने के लिए उम्मीदवारों को नेट की ऑफिशियल वेबसाइट ugcnet.nta.ac.in पर जाकर अप्लाई करना होगा। रेजिस्ट्रेशन की तिथि बढ़ाने को लेकर NTA ने बताया कि एजेंसी को आवेदन करने की अंतिम तिथि को बढ़ाने के लिए उम्मीदवारों से कई अनुरोध प्राप्त हुए थे इसलिए फॉर्म भरने की अंतिम तिथि को बढ़ा दी गई है। अब आप 15 मई तक नेट का फॉर्म भर सकते हैं। 

परीक्षा की तारीख भी बदली गई
इससे पहले NTA ने UGC NET की परीक्षा तारीख को लेकर भी बदलाव किया था। पहले ये परीक्षा 16 जून  को होनी थी लेकिन इसकी तारीख को स्थानांतरित कर इसे 18 जून कर दिया गया। अब 18 जून को पूरे देश में NTA UGC-NET की परीक्षा को आयोजित करेगा। परीक्षा की तिथि के बदलाव के लिए NTA ने कारण बताते हुए कहा कि 16 जून को ही UPSC CSE की परीक्षा है इसलिए दोनों परिक्षाओं की तिथि टकरा रही थीं। यह देखते हुए एजेंसी ने परीक्षा की तारीख बदलकर 18 जून कर दी।

इस फॉर्म को भरने के लिए कितना देना होगा शुल्क
UGC NET परीक्षा के लिए आवेदन करने वालों को कैटेगरी अनुसार आवेदन शुल्क देना होगा। जैसे- सामान्य (General) कैटेगरी वालों को आवेदन शुल्क के तौर पर 1150 रुपये का भुगतान करना होगा। जनरल (EWS), OBC-NCL कैटेगरी वाले उम्मीदवारों को 600 रुपए और ST,SC,PWD कैटेगरी वाले उम्मीदवारों को 375 रुपये देने होंगे।

 

Tags:

About The Author

Tarunmitra Picture

‘तरुणमित्र’ श्रम ही आधार, सिर्फ खबरों से सरोकार। के तर्ज पर प्रकाशित होने वाला ऐसा समचाार पत्र है जो वर्ष 1978 में पूर्वी उत्तर प्रदेश के जौनपुर जैसे सुविधाविहीन शहर से स्व0 समूह सम्पादक कैलाशनाथ के श्रम के बदौलत प्रकाशित होकर आज पांच प्रदेश (उत्तर प्रदेश, बिहार, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश और उत्तराखण्ड) तक अपनी पहुंच बना चुका है। 

Latest News