लखनऊ की श्रीजगन्नाथ रथयात्रा महोत्सव ने पूर्ण किये 100 वर्ष, साल भर होंगे आयोजन

लखनऊ की श्रीजगन्नाथ रथयात्रा महोत्सव ने पूर्ण किये 100 वर्ष, साल भर होंगे आयोजन

लखनऊ। उप्र की राजधानी लखनऊ के अमीनाबाद से निकलने वाली श्रीजगन्नाथ रथयात्रा के 100 वर्ष पूर्ण हो गये। रथयात्रा महोत्सव की परम्परा को संजीवनी देने वाली समिति सदस्य इस वर्ष कई आयोजन कर रहे हैं। धार्मिक आयोजन में शहर के तमाम गणमान्य लोगों और जन प्रतिनिधियों को आमंत्रित किया जा रहा है।महोत्सव समिति के प्रमुख सूर्य प्रकाश ने ‘हिन्दुस्थान समाचार’ को बताया कि अमीनाबाद की मारवाड़ी गली में आगामी 27 जनवरी को श्रीजगन्नाथ जी पूजन के बाद प्रसाद वितरण किया जाएगा। इससे पहले 22 जनवरी को रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के दौरान सुन्दकाण्ड पाठ का आयोजन, 51 सौ दीपकों से भव्य-दीपोत्सव, हनुमान चालीसा पाठ, हरी कीर्तन, महाआरती करायी गयी।

कार्यक्रमों में 51 किलो लड्डू का भोग लगाकर एक बार पहले प्रसाद वितरण किया गया।उन्होंने बताया कि आगे प्रसाद वितरण कार्यक्रम में हस्तनिर्मित प्रसाद बंटेगा। प्रसाद 12 बजे से चार बजे तक बांटा जायेगा। महोत्सव के 100 वर्ष पूर्ण होने पर पूरे वर्ष कुछ न कुछ कार्यक्रम होते रहेंगे। इसमें 100 ईश्वर भक्तों द्वारा 100 धार्मिक पुस्तक का वितरण कार्यक्रम भी शामिल है।श्रीजगन्नाथ यात्रा महोत्सव के लिए बनी समिति ने रथयात्रा के माध्यम से नो पाॅलिथीन, बेटी बचाओं-बेटी पढ़ाओ, नामामि गंगे, वृक्षारोपण संकल्प पर्व, हर आंगन तुलसी विराजे, तम्बाकू त्याग, भारत के वीर जैसे सामाजिक विषयों को उठाया है। प्रत्येक वर्ष रथयात्रा समिति अपने निर्धारित समय जुलाई में मारवाड़ी गली से आरम्भ होती है और गणेशगंज, नाका हिन्डोला, गुरुद्वारा रोड, लाटूश रोड, कैसरबाग़ होते हुए अमीनाबाद की मारवाड़ी गली में समाप्त होती है।


Tags: lucknow

About The Author

Latest News