एक मुश्त समाधान योजना बिजली चोरों के लिए बनी वरदान

आम उपभोक्ता को वैसा फायदा नहीं, ठगा का ठगा ही रह गया

एक मुश्त समाधान योजना बिजली चोरों के लिए बनी वरदान

एक मुश्त समाधान योजना बिजली चोरों के लिए बनी वरदान

हरदोई।उत्तर प्रदेश पावर कॉरपोरेशन लिमिटेड द्वारा न केवल विद्युत उपभोक्ताओं बल्कि विद्युत चोरी के प्रकरणों में भी एक मुश्त समाधान योजना 8 नवंबर 2023 से चरणों में लागू की गई थी अभी भी तीसरा चरण 16 दिसंबर से 31 दिसंबर 2023 तक चल रहा है 

अधीक्षण अभियंता रमेश चंद्र विद्युत वितरण मंडल मध्यांचल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड हरदोई ने आहूत प्रेस वार्ता में बताया कि एक मुश्त समाधान योजना 31 दिसंबर 2023 को समाप्त हो जाएगी और इसका आगे विस्तार नहीं होगा। चोरी और 
आरसी के मामलों में अंतिम चरण में अभी भी 50% की छूट दी जा रही है। 31 मार्च 2023 तक किसानों के नलकूप के मामले हैं उन्हें भी वह योजना का लाभ लेते हुए व्यवस्थित करने अप्रैल 2023 के बाद किसी भी किसान से उनके निजी नलकूप का विद्युत बिल नहीं लिया जाएगा। बिल प्रोविजन के जो मामले हैं उनका भी सुधार करते हुए एक मुश्त समाधान योजना के अंतर्गत उपभोक्ताओं को लाभ दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि 31 दिसंबर 2023 को ओटीएस योजना समाप्त हो जाएगी उसके उपरांत जो पुरानी पद्धत से ही उसके अनुसार विच्छेदन कर नियम संगत कार्रवाई की जाएगी।
श्री चंद्र ने बताया कि कुल 458 139 के लक्ष्य के सापेक्ष में 66603 उपभोक्ताओं का रजिस्ट्रेशन हुआ है जिसमें 42 217 लोगों ने भुगतान किया है 5132 चोरी के मामले दर्ज हैं जिम 661 पंजीकृत होकर तकरीबन एक करोड़ 35 लाख की धनराशि जमा हुई है।पत्रकारों के पूछने पर उन्होंने बताया कि ब्याज में छूट दी जाती है मूलधन जमा कर लिया जाता है गौरतलब हो कि बिजली चोरों के लिए सरकार ने एक सुहावना अवसर दिया है जिसे लोग भरपूर लाभ उठा रहे हैं श्री चंद्र ने भी इसका लाभ उठाने की अपील की है।

Tags: Hardoi

About The Author

Latest News