आर्मी नर्सिंग छात्राओं को पढ़ाया सेवा भाव का पाठ

बीएससी नर्सिंग छात्राओं को सम्मानित कर दिलाई शपथ

आर्मी नर्सिंग छात्राओं को पढ़ाया सेवा भाव का पाठ

लखनऊ। राजधानी के मध्य कमान सभागार 10 वीं बैच के बीएससी नर्सिंग छात्राओं के लिए सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। मंगलवार को मध्य कमान कॉलेज ऑफ नर्सिंग अस्पताल के एएमसी ऑडिटोरियम में दीप प्रज्वलित कर समारोह का शुभारंभ किया गया। जिसमें बीएससी नर्सिंग छात्राओं को चार साल की अवधि में प्रदान की गई शिक्षा में मरीजों से अच्छा व्यवहार, शैक्षणिक अनुसरण, समर्पण, दृढ़ता और नैदानिक अभ्यास के माध्यम से युवा नर्सिंग कैडेट की नौसिखिए से पेशेवर की यात्रा के बारे में बताया।
 
वहीं मुख्य अतिथि के रूप में मेजर जनरल एए करमारकर एमजी मेडिकल मध्य कमान उपस्थित रहे। कार्यक्रम की शुरुआत सबसे पहले ईश्वर के प्रार्थना से शुरू हुई। इसके तत्पश्चात मॉडर्न नर्सिंग की संस्थापक फ्लोरेंस नाइटिंगेल की बायोपिक पर एक स्लाइड शो प्रस्तुत किया गया। वहीं ब्रिगेडियर मैरी, एआई ब्रिगेडियर एमएनएस मध्य कमान ने नर्सों को प्राप्त उपाधि की शपथ दिलाई। साथ ही कर्नल वी सुगिर्था प्रिंसिपल कॉलेज ऑफ नर्सिंग मध्य कमान ने पाठ्यक्रम रिपोर्ट प्रस्तुत की। मेजर जनरल एए करमारकर ने संबोधित करते हुए कहा कि छात्रों को नर्सिंग पेशे में निस्वार्थ भक्ति, अनुशासन, बीमारों के लिए वास्तविक चिंता जैसे गुणों की आवश्यकता होती है।
 
इसी क्रम में मध्य कमान अस्पताल के कमांडेंट मेजर जनरल पंकज पी राव ने मेधावी छात्राओं को पुरस्कार प्रदान किये। समारोह में मध्य कमान अस्पताल के डीन और डिप्टी कमांडेंट ब्रिगेडियर राजू अग्रवाल, वरिष्ठ एएमसी अधिकारी, एमएनएस अधिकारी और आसपास के नर्सिंग कॉलेजों और संबद्ध विश्वविद्यालय के संकाय सदस्य उपस्थित रहे। ज्ञात हो कि नर्सिंग कॉलेज की स्थापना वर्ष 1951 में हुई बीते वर्ष 2013 में इसे स्कूल से कॉलेज में अपग्रेड किया गया। प्रशिक्षण भारतीय नर्सिंग परिषद और संबद्ध विश्वविद्यालय के निर्देशों के अनुसार आयोजित किया जाता है।
Tags: lucknow

About The Author

Latest News