अवैध बालू कारोबार को लेकर 2940 के खिलाफ एफ़आइआर, 180 करोड़ जुर्माना

खनन विभाग ने 8 माह में ज़ब्त किया 11911 मालवाहक वाहन

प्रथम स्थान पर सारण दूसरे स्थान पर भोजपुर तीसरे स्थान पर पटना

 
 
रवीश कुमार मणि 
 
पटना ( अ सं ) । सूबे में अवैध बालू कारोबार बड़े पैमाने पर फल - फूल रहा है । पुरा सिस्टम बालू माफिया को संरक्षण देने में जुटी है ।इसके बावजूद इज़्ज़त बचाने के लिए 8 माह में खनन विभाग ने कार्रवाई करते हुए 11911 मालवाहक वाहनों को ज़ब्त किया है एवं 2940 के खिलाफ एफ़आइआर दर्ज किया है । खनन विभाग ने अवैध बालू कारोबारियों से 180 करोड़ जुर्माना वसूल किया है । 
           सूबे में सबसे अधिक सारण ज़िले में जुर्माना किया है । सारण ज़िला खनन कार्यालय ने अवैध बालू कारोबारियों पर 33 करोड़ का जुर्माना लगाया है वहीं दूसरे स्थान पर भोजपुर ज़िला है । भोजपुर खनन कार्यालय ने अवैध बालू कारोबारियों से 24 करोड़ रूपये वसूली की गयी है । पटना की बात करें तो यह तीसरे स्थान पर , पटना ज़िला खनन कार्यालय ने 10 करोड़ जुर्माना की राशि को वसूली किया है । 
         भोजपुर ज़िला खनन पदाधिकारी राजेश कुशवाहा ने योगदान करते ही महज़ तीन माह के अंदर अवैध बालू खनन में लगे 22 पॉकलेन को ज़ब्त किया है । इससे अवैध खनन करने वाले बालू माफिया के एक प्रकार से कमर टूट गई है । ज़ब्त पॉकलेन को नीलामी की कार्रवाई तेज कर दी गई है । 
        पटना ज़िले में सीआ के अनुकूल खनन कार्य नहीं किया जा रहा है । जल संसाधन की टीम ने सोन नदी का निरीक्षण किया है । इस दौरान सोन नदी के रिवर एज को बंदोबस्तधारियों द्वारा काफ़ी नुक़सान के प्रमाण मिले हैं साथ मूल प्रवाह को परिवर्तित करने के सबूत मिले है । जल संसाधन विभाग ने ज़िला खनन कार्यालय को एक विस्तृत रिपोर्ट भेजी है और ज़िला खनन कार्यालय से कार्रवाई करने एवं संबंधित से स्पष्टीकरण की माँग की है । 
          नवादा ज़िला खनन पदाधिकारी मुकेश कुमार भी अवैध बालू कारोबारियों के खिलाफ लगातार अभियान चला रहे है । लंबे अरसे से हिसुआ में चल रहे अवैध बालू खनन पर गहरा प्रहार करते हुए क़रीब 25 ट्रैक्टर ज़ब्त किया एवं संबंधित लोगों के खिलाफ एफ़आइआर दर्ज किया है । 
Tags:

About The Author

Related Posts

Latest News