निर्माणाधीन परियोजनाओं में तेज़ी लाएं कार्यदायी संस्थाएं: जिलाधिकारी

निर्माणाधीन परियोजनाओं में तेज़ी लाएं कार्यदायी संस्थाएं: जिलाधिकारी

बहराइच। जनपद में विभिन्न विभागों के रू0 50 लाख से अधिक एवं रू. 50 लाख से कम  लागत की निर्माण परियोजनाओं की प्रगति की समीक्षा हेतु प्रशासकीय विभागों एवं सम्बन्धित कार्यदायी संस्थाओं के साथ शुक्रवार को देर २ााम कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित बैठक के दौरान जिलाधिकारी मोनिका रानी ने कार्यदायी संस्थाओं को निर्देश दिया कि आगामी बैठक तक प्रगति में अपेक्षित सुधार लाया जाय। डीएम ने निर्देश दिया कि कोई भी परियोजनाएं अनारम्भ की स्थिति में नहीं रहनी चाहिए। यदि कोई परियोजना अभी प्रारम्भ नहीं हुई है तो उसे तत्काल आरम्भ कर दें। 

डीएम ने प्रशासकीय विभागों एवं कार्यदायी संस्थाओं को निर्देश दिया कि बेहतर समन्वय के साथ निर्माणाधीन भवन परियोजनाओं को गुणवत्ता के अनुसार समय से पूर्ण करायें।डीएम ने निर्देश दिया कि जिन कार्यदायी संस्थाओं को परियोजना का पूरा बजट प्राप्त हो गया और परियोजनाओं के निर्धारित तिथि तक कार्य पूर्ण नहीं किया गया है और कार्य की प्रगति भी संतोषजनक नहीं है ऐसे अधिकारियों से स्पष्टीकरण प्राप्त किया जाय। डीएम ने कहा कि सभी सम्बन्धित विभागीय अधिकारी अपनी परियोजनाओं का नियमित रूप से स्थलीय निरीक्षण कर कार्यों की गुणवत्ता सुनिश्चित करायें। 

उन्होनें डीडीओ को निर्देश दिया कि सांसद व विधायक निधि के कार्याे का नियमित अनुश्रवण कर उन्हें निर्धारित मानव व गुणवत्ता के साथ पूर्ण करायें।बैठक के दौरान जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी डॉ. अर्चना सिंह ने बताया कि जिले में जनपद में कुल रू. 578.68 करोड़ की लागत से विभिन्न योजनाओं के अन्तर्गत रू. 50 लाख से अधिक लागत के निर्माणाधीन कुल 83 परियोजनाओं पर अब तक रू. 431.24 करोड़ की धनराशि व्यय कर 90 प्रतिशत वित्तीय एवं 49 प्रतिशत भौतिक प्रगति प्राप्त की गयी है। डीएम ने सभी कार्यदायी संस्थाओं को निर्देश दिया कि सीएमआईएस पोर्टल पर निर्माण कार्यों की प्रगति को अद्यतन रखा जाय। 

सभी विभागीय अधिकारी अपने विभाग की निर्माणाधीन परियोजनाओं की गुणवत्तापूर्ण निर्माण सुनिश्चित करने के लिये समय-समय पर स्वयं निरीक्षण तथा निर्माण कार्य की प्रगति का नियमित रूप से अनुश्रवण करें निरीक्षण आख्या की प्रति जिलाधिकारी को अवश्य भेजें।डीएम ने निर्देश दिया कि जिन परियोजनाओं का कार्य पूर्ण हो गया है, उन्हें अविलम्ब हैण्डओवर करा दिया जाय तथा जिन परियोजनाओं की भौतिक प्रगति 85 प्रतिशत या इससे अधिक है, उसे आगामी माह तक पूर्ण कर लिया जाय। सभी कार्यदायी संस्थाए निर्माण कार्यों को समयबद्ध रूप से गुणवत्ता के साथ मानक के अनुरूप पूर्ण कराएं। 

डीएम ने कहा कि कार्यदायी संस्थाओं द्वारा उपयोगिता प्रमाण पत्र उपलब्ध कराये जाने के 15 दिन के अन्दर प्रशासकीय विभाग जांच कराकर 15 दिन में कराकर उपयोगिता प्रमाण पत्र शासन को प्रेषित कराना सुनिश्चित करें। डीएम ने कहा कि जिन परियोजनाओं में अगली किश्त जानी हो उसे शीघ्र जारी करें। किश्तों को जारी करने में किसी प्रकार का विलम्ब न किया जाय।डीएम मोनिका रानी ने कार्यदायी संस्था को निर्देश दिया कि मेडिकल कालेज का पुनरीक्षित आगणन शासन को भेजने तथा महाराजा सुहेलदेव पर्यटन विकास योजना में डॉरमेट्री का निर्माण कार्य अतिशीघ्र पूर्ण कराये जाने का निर्देश दिया। 

जिला विद्यालय निरीक्षक को निर्देश दिया गया कि प्रोजेक्ट अलंकार योजनान्तर्गत के निर्माण कार्यों के लिये कार्यदायी संस्था को दो दिवस के अन्दर अनिवार्य रूप से विद्यालयों में स्थान चिन्हित करा दिया जाय। डीएम ने सभी प्रशासकीय विभागों एवं कार्यदायी संस्थाओं को यह भी निर्देश दिया कि जिले में लोकार्पण एवं शिलान्यास हेतु निर्माण कार्यों/ परियोजनाओं की अद्यतन सूची तैयार कर ली जाय।इस अवसर पर एएसपी पवित्र मोहन त्रिपाठी, सीएमओ डॉ. एस.के. सिंह, डीडीओ महेन्द्र कुमार पाण्डेय, प्राचार्य मेडिकल कालेज डॉ संजय खत्री, अधिशाषी अभियन्ता लोकनिर्माण प्रान्तीय खण्ड प्रदीप कुमार, निर्माण खण्ड-1 अमर सिंह, डीआईओएस नरेन्द्र देव पाण्डेय, डीएमओ संजय मिश्रा सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारी, कार्यदायी संस्थाओं के प्रतिनिधि मौजूद रहे।

Tags: Barabanki

About The Author

Latest News

Kushinagar : नफरत में चली गोली, एक युवक की हालत गंभीर Kushinagar : नफरत में चली गोली, एक युवक की हालत गंभीर
कुशीनगर। जनपद में शुक्रवार को कसया थाना क्षेत्र के ग्राम नादह गांव में आपसी रंजिश में चली गोली, एक युवक...
बैंक डकैती : कैशियर को गोली मारकर बैंक लूट का प्रयास,दोनों आरोपी गिरफ्तार
डिस्पोजेबल कप पर लगाने होंगे नाम वाले स्टीकर्स, ताकि कचरा कौन फैला रहा है पकड़ में आ सके!
जल जीवन मिशन की प्रगति के लिए एकजुट होकर करें कार्य - चौधरी
पर्यटन की दृष्टि से विकसित होगा उदयपुर का बाघदड़ा नेचर पार्क
कोडरमा में ढिबरा स्क्रैप मजदूर संघ का धरना 12वें दिन खत्म
25 हजार के कर्ज पर सूद में जुड़ गया पांच लाख, व्यापारी ने लगाई फांसी