पैसों के लिए किये गंदे रोल: नीना गुप्ता

पैसों के लिए किये गंदे रोल: नीना गुप्ता

इस वक्त हर कोई वेब सीरीज ''पंचायत 3'' को लेकर उत्सुक है। पिछले दो सीजन के बाद दुनियाभर के दर्शक ''पंचायत 3'' का इंतजार कर रहे हैं। इस वेब सीरीज के हर किरदार को दर्शक खूब पसंद करते हैं। इस सीरीज में मंजू देवी उर्फ नीना गुप्ता को भी दर्शकों का अच्छा प्यार मिला। नीना गुप्ता एक इंटरव्यू में शुरुआती जिंदगी के संघर्ष का खुलासा किया है। मीडिया को दिए इंटरव्यू में नीना गुप्ता ने खुलासा किया कि, ''आज अच्छी आर्थिक स्थिति की वजह से मेरी जिंदगी बदल गई है। लेकिन करियर की शुरुआत में पैसों की बहुत जरूरत थी। ज्यादा पैसे पाने के लिए बहुत सारे बुरे काम और गंदे रोल करने पड़े। लेकिन मैंने कई बार भगवान से प्रार्थना की कि वह उन दृश्यों को आगे जारी न करें। लेकिन आज मैं ऐसे बुरे रोल्स को ना कह सकती हूं।''

उन्होंने कहा कि हालांकि, पहले कभी इतनी दृढ़ता से ना नहीं कह सकी। आज मैं केवल वही स्क्रिप्ट करता हूं, जो मुझे पसंद है, मैं वह नहीं करती, जो मुझे पसंद नहीं है। नीना गुप्ता ने आगे खुलासा करते हुए कहा, "मैं दिल्ली से आई हूं, इसलिए पहले मुंबई एक मुश्किल शहर लगता था। हर तीन महीने में मुझे अपना सामान पैक करके वापस जाने का मन करता था। मैं वापस जाकर अपनी पीएचडी करना चाहती थी। मुंबई एक ऐसा शहर है, मैंने सोचा कल जा रही हूं तो आज रात को लगेगा कि कल कोई काम मिल जाएगा। रुक कर देखते हैं।" नीना ने आगे कहा, ''मुझे लगता है कि जब मैं मर जाऊंगी तो लोग लिखेंगे कि बोल्ड नीना गुप्ता अब नहीं रहीं। मतलब तब भी वो लोग मुझे नहीं छोड़ेंगे। चलो ठीक है, मुझे इससे फर्क नहीं पड़ता है।''

 

 

Tags:

About The Author

Latest News

आज का राशिफल 14 जुलाई 2024 :जाने  कैसा रहेगा आज का दिन आज का राशिफल 14 जुलाई 2024 :जाने  कैसा रहेगा आज का दिन
  मेष  किसी काम में बेहद बिजी रहेंगे।शारीरिक कष्ट से राहत मिल सकती है। परिवारिक विवाद के चलते तनाव होने
संविधान की हत्या करने वाली कांग्रेस के साथ सिर्फ सत्ता के लिए झामुमो गलबहियां कर रहा
सरैयाहाट में दो भाई बहनों से पूछताछ कर मुंबई पुलिस वापस लौटी
मुख्यमंत्री बहन-बेटी माई-कुई योजना के फर्जी फॉर्म मिलने की शिकायत: डीसी
जिला खनन टास्क फोर्स टीम की बड़ी कार्रवाई, दर्जनों कोयला खदान को किया डोजरिंग
राष्ट्रीय लोक अदालत में 12,269 वादों का निष्पादन, करीब नाै करोड़ की वसूली
संविधान हत्या दिवस मनाने के केंद्र सरकार के फैसले पर झामुमो ने उठाए सवाल