‘रामोत्सव 2024’ में राज्यपाल ने रामभक्तों को दी बधाई

उपमुख्यमंत्री ने किया कथा प्रवक्ता देवकींनदन महाराज का सम्मान

‘रामोत्सव 2024’ में राज्यपाल ने रामभक्तों को दी बधाई

  • कथाओं और संवाद का लाभ समाज को मिलता है - राज्यपाल

मथुरा। श्रीराममंदिर प्राण प्रतिष्ठा आयोजन में ‘रामोत्सव 2024’ के अन्तर्गत लखनऊ में श्रीराम कथा आयोजन पर राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने रामभक्तों को बधाई दी । कथा समापन पर उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक ने वृन्दावन के कथा प्रवक्ता देवकीनंदन ठाकुरजी महाराज को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया । उपमुख्यमंत्री ने अपने शीश पर रामायण पोथी धारण कर कथा व्यास को विदायी दी।

अयोध्या में भगवान श्री राम के आगमन के उपलक्ष्य में प्रदेश सरकार द्वारा डी.ए.वी कॉलेज, ऐशबाग रोड पर 24 जनवरी से 1 फरवरी 2024 तक श्रीराम कथा का आयोजन किया गया था । समापन दिवस की कथा में उत्तर प्रदेश राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने व्यासपीठ पूजन कर कहा कि अच्छाईयों को आगे बढ़ाने का प्रयास किसी भी माध्यम से हो सकता है ।

राज्यपाल ने कहा कि कथाओं और संवाद का फायदा समाज को होता है । चाहें, रामायण हो रामचरितमानस हो, महाभारत या अन्य कथायें, इनके प्रसंगों से जीवन को बदलने के लिये बहुत प्रेरणा मिलती है ।

कथा आयोजक एवं प्रमुख यजमान उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक ने पत्नी नम्रता पाठक के साथ व्यासपीठ पूजन किया तथा अपने सिर पर रामायण पोथी उठाकर व्यासपीठ को विदायी दी । उपमुख्यमंत्री ने देवकीनंदन महाराज का अभिनंदन कर सभी श्रोताओं एवं आगुन्तकों का आभार व्यक्त किया ।

देवकींनदन महाराज ने कहा कि आजादी के बाद सनातनियों को सबसे बड़ा उपहार राम मंदिर के रूप में मिला है। न्यायालय के साथ मोदी सरकार की दृढता से 22 जनवरी को अयोध्या में श्रीराम मंदिर दर्शन सम्भव हो पाया है। इससे पूर्व कथा में उत्तर प्रदेश कारागार मंत्री धर्मवीर प्रजापति, परिवहन मंत्री दयाशंकर सिंह, भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष बृजबहादुर सिंह, अवधक्षेत्र अध्यक्ष कमलेश मिश्रा, प्रबंधक मनमोहन तिवारी, सर्वेश पाण्डेय, एवं अन्य गणमान्य लोगो ने श्रोताओं के साथ बैठकर कथा श्रवण की। 

Tags: Mathura

About The Author

Latest News