पच्चीस लाख के ऋण के लिए ग्रामीण के साथ सवा चार लाख की ठगी

ऑनलाइन ऋण हासिल करने के लिए जमा कराए रुपए

पच्चीस लाख के ऋण के लिए ग्रामीण के साथ सवा चार लाख की ठगी

ऊंचाहार/रायबरेली। ऑनलाइन निजी कंपनी से पच्चीस लाख रुपए ऋण हासिल करने के चक्कर में एक युवक ठगी का शिकार हो गया है । उसे ऋण का लालच देकर ठगों ने उससे सवा चार लाख रुपए हासिल कर लिए और उसको फर्जी दस्तावेज थमा दिया । पीड़ित ने गुरुवार को मामले की शिकायत कोतवाली में की है क्षेत्र के गांव दौलतपुर निवासी युवक अजयपाल ने बताया कि उसके मोबाइल फोन पर एक निजी कंपनी से ऋण का विज्ञापन आया था । जिसे देखकर उसने ऋण के लिए ऑनलाइन आवेदन कर दिया । उसके बाद कंपनी के लखनऊ और दिल्ली निवासी दो लोगों से उसकी बात चीत होने लगी और धीरे धीरे करके दोनो ने उससे चार लाख 12 हजार रुपए ऑनलाइन अपने खाते में ले लिया । यही नहीं दोनो ने अपना आधार कार्ड भी पीड़ित को भेजा था । लाखों रुपए गवाने के बाद पीड़ित को ठगों ने ऋण का फर्जी दस्तावेज भेज दिया । इसके बाद पीड़ित को शंका हुई तब उसे पता चला कि वह ठगी का शिकार हो गया है । गुरुवार को कोतवाली पहुंचे पीड़ित ने मामले की लिखित शिकायत की है ।
 

About The Author

Latest News