मुख्यमंत्री शिवराज ने भोपाल गैस त्रासदी की बरसी पर दिवंगताें को श्रद्धांजलि अर्पित की

मुख्यमंत्री शिवराज ने भोपाल गैस त्रासदी की बरसी पर दिवंगताें को श्रद्धांजलि अर्पित की

भोपाल। भोपाल गैस कांड की आज 39वीं बरसी है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल गैस त्रासदी की बरसी पर असमय अपनी जान गंवाने वाले दिवंगतों को श्रद्धांजलि अर्पित की है। मुख्यमंत्री चाैहान ने सोशल मीडिया एक्स पर ट्वीट कर अपने श्रद्धांजलि संदेश में कहा भोपाल गैस त्रासदी ने कई अनमोल जिंदगियों को हमसे छीना है। इस भीषणतम त्रासदी में असमय प्राण गंवाने वाले सभी दिवंगतों को अश्रुपूरित श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं। ईश्वर से यही प्रार्थना है कि ऐसी काली रात की पुनरावृति फिर कभी न हो और समाज को कभी इस तरह की भयावह त्रासदी का सामना न करना पड़े।

सर्वधर्म सभा आयोजन में पहुंचेभोपाल गैस त्रासदी की बरसी पर रविवार को भोपाल के करोंद में स्थित भोपाल स्मारक अस्पताल एवं अनुसंधान केंद्र (बीएमएचआरसी) में सर्वधर्म सभा का आयोजन किया। चुनावी गहमागहमियों के बीच मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी इस सर्वधर्म सभा में पहुंचे और गैस कांड में मारे गए लोगों को श्रद्धासुमन अर्पित किए। इस मौके पर उन्होंने कहा कि आज भी 2-3 दिसंबर की वो रात याद आती है तो हम कांप उठते हैं। जहरीली गैस के कारण हमारे हज़ारों भाई-बहनों और बच्चों ने अपनी जान गंवाई। भोपाल का वो दृश्य भूला नहीं जा सकता। मैं उन सब भाई-बहनों के चरणों में श्रद्धा के सुमन अर्पित करना चाहता हूं। उस भीषण त्रासदी ने कई अनमोल जिंदगियों को हमसे छीना है।


 

 

Tags:

About The Author

Latest News

सरकार की छवि धूमिल होते देख करणी सैनिकों ने एआरटीओ को दिया अल्टीमेटम सरकार की छवि धूमिल होते देख करणी सैनिकों ने एआरटीओ को दिया अल्टीमेटम
अलीगढ़। एआरटीओ प्रवेश कुमार यादव की मिली भगत से हो रहा है। अवैध और चोरी की बाइक और स्कूटर पर...
इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन को लेकर राज ठाकरे ने कहा ”ईवीएम की जगह बैलेट पेपर से वोटिंग होनी चाहिए
UP: सिपाही भर्ती पेपर लीक: जाने कहां से हुई चूक
टेक्नॉलाजी युग के साथ हमको आगे बढ़ना ही होगा : राज्यपाल दत्तात्रेय
वित्त मंत्री सीतारमण ने बिट्स पिलानी के पांचवें परिसर का उद्घाटन किया
लोकसभा चुनाव को देखते हुए बीजेपी मुख्यालय में पांच राज्यों की कोर ग्रुप की बैठक बुलाई
प्रशिक्षण प्राप्त करने के बाद सभी फेलोज को प्रदेश के 100 चयनित पिछड़े नगरीय निकायों में भेजा जाएगा