पोषण पखवारा को लेकर आंगनवाड़ी पर……

नोखा, रोहतास। नोखा प्रखंड में 1 सितंबर से लेकर 30 सितंबर तक राष्ट्रीय पोषण माह मनाया जा रहा है। इस दौरान आंगनबाड़ी केंद्रों के साथ- साथ परियोजना स्थल पर विभिन्न प्रकार के गतिविधियों का आयोजन किया जाएगा कुपोषण छोड़ पोषण की ओर था में स्थानीय भोजन की डोर की थीम पर राष्ट्रीय पोषण माह का सफल संचालन के लिए समाज कल्याण विभाग द्वारा यह कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है।राष्ट्रीय पोषण माह के दौरान 1 सितंबर से 15 सितंबर तक वृद्धि निगरानी अभियान चलाया जाएगा।

इस दौरान आंगनबाड़ी सेविका आशा एएनएम के साथ समन्वय स्थापित कर आपने आंगनबाड़ी केंद्रों के पोषक क्षेत्रों में जीरो से 6 वर्ष तक के सभी बच्चों की वजन लंबाई और ऊंचाई की माप की जाएगी ताकि बच्चों के पोषण स्तर के अनुसार सामान्य कुपोषित और अति कुपोषित बच्चों की पहचान की जा सके।संपूर्ण पोषण माह के दौरान जिला स्तर सदर अस्पताल एवं जिला कार्यक्रम कार्यालय में डीपीओ के देख रेख में और प्रखंड के बाल विकास परियोजना कार्यालय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र एवं प्रखंड कार्यालय मैं सीडीपीओ को देखरेख में कर परामर्श केंद्र का संचालन या जाएगा।

 

इस दौरान आंगनबाड़ी सेविका सहायिका आशा एएनएम जीविका ग्राम स्वच्छता समिति एवं पोषण समिति के सदस्य शिक्षकों विकास मित्र द्वारा स्थानीय व्यस्त लोगों के सहयोग से पोषण रैली भी निकाली जाएगी। सीडीपीओ आशा कुमारी ने बताया कि पोषण अभियान को सफल बनाने के लिये सभी स्तर पर कार्यक्रम चलाए जायेगे।राष्ट्रीय पोषण अभियान के तहत 7 सितंबर तक सारी क्षेत्रों सहित अंजल अन्य क्षेत्रों में स्वच्छता के लिए जागरूकता अभियान और समितियों की बैठक में पोषण की चर्चा की जाएगी। पोषण अभियान के तहत सभी विद्यालयों में स्वच्छता पर भी बच्चों के साथ चर्चा एवं शपथ ग्रहण का कार्यक्रम चलेगा इसके साथ ही आंगनबाड़ी केंद्रों विद्यालय और पंचायत स्तर पर पौधारोपण एवं पोषण वाटिका का स्लोगन, आंगनबाड़ी केंद्रों पर एनीमिया जागरूकता अभियान सहित अन्य कार्यक्रम भी चलाये जायेगे।

8 से 15 सितम्बर तक पोषण के लिये योगाभ्यास पोषण अभियान के दौरान प्रसव पूर्व देखभाल एवं गर्भावती धात्री महिलाओं को बेहतर पोषण के लिए योगाभ्यास जन जागरूकता अभियान के साथ-साथ बच्चों के पोषण कक्षका का संचालन एवं चेतना सत्र के दौरान पोषण संबंधी जानकारी दी जाएगी 16 से 23 सितंबर के दौरान जिला स्तर पर पोषण संबंधी समन्वय समिति की बैठक एवं पोषण पंचायत का आयोजन किया जाएगा इस दौरान बोतल के दूध पिलाने मुक्त गांव घोषित करने के अभियान के साथ-साथ आंगनबाड़ी केंद्रों पर स्थानीय खाद्य सामग्री का प्रदर्शन और कृमि नाशक अभियान का संचालन किया जाएगा।

See also  शराब साथ धंधेबाज को पुलिस नें किया गिरफ्तार, भेजा जेल