आंखों की रोशनी की समस्या से परेशान हैं तो…

नई दिल्ली: आंखों के बिना हमारा जीवन अंधकार भरा हो सकता है। ऐसे में यह बेहद जरूरी है कि हम अपनी आंखों का खासतौर पर ध्यान रखें। लेकिन इन दिनों हमारी जीवनशैली का असर अब आंखों पर भी पड़ने लगा है। खानपान में कमी और लगातार स्क्रीन के इस्तेमाल की वजह से हमारी आंखों की रोशनी कम होने लगी है। अगर आपको भी चीजें धुंधली नजर आने लगी है, तो इन घरेलू उपायों की मदद से आप अपनी आंखों की कम होती रोशनी को बढ़ा सकते हैं।

आंवला
इन दिनों ऑफिस के काम की वजह से लगातार लैपटॉप या कंम्प्यूटर का इस्तेमाल करना पड़ता है। इसकी वजह से अब हमारी आंखों पर हानिकारक प्रभाव पड़ने लगा है। अगर आपको भी चीजें धुंधली दिखने लगी हैं, तो इसका मतलब है कि आपकी आंखों की रोशनी कम हो रही है। ऐसे में इसे ठीक करने के लिए आंवला काफी फायदेमंद साबित होगा। विटामिन- सी से भरपूर आंवले का सेवन आंखों के लिए गुणकारी है। आप मुरब्बे, जूस या चटनी के रूप में इसे खा सकते हैं।

बादाम
कई पोषक तत्वों से भरपूर बादाम न सिर्फ हमारे दिमाग के लिए फायदेमंद है, बल्कि इसके सेवन से आंखों की रोशनी की अच्छी होती है। अगर आप भी आंखों की कम होती रोशनी से परेशान हैं, तो इसके लिए बादाम का सेवन लाभदायक होगा। अगर आपको भी आंखों पानी निकलने या इनके लाल होने की समस्या है, तो रोज रात को 6 से 8 बादाम भिगोकर रख दें। अब सुबह खाली पेट इसका सेवन करने से फायदा मिलेगा।

See also  फर्जी ट्रेलर(fake trailer) लॉन्च करके लोगों को लगाया करोडो का चूना

अंजीर और किशमिश
अगर आप आंखों की कम होती रोशनी से परेशान हैं, तो इसके लिए अंजीर और किशमिश भी एक बढ़िया उपाय है। आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए 10 से 12 किशमिश और 2 अंजीर रातभर पानी में भिगोकर रख दें। अगली सुबह उठकर इसे खाली पेट खा लें। नियमित रूप से ऐसा करने से आपको जल्द ही फायदा दिखने लगेगा।

बादाम, सौंफ और मिश्री
आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए आप बादाम, सौंफ और मिश्री का सेवन भी कर सकते हैं। इसके लिए बादाम, सौंफ के बीजों और मिश्री को मिलाकर पीस लें। अब रोजाना रात में सोने से पहले एक चम्मच पाउडर का दूध के साथ सेवन करें। एक हफ्ते तक इसे करने से नतीजा आने लगेगा।

गुलाब जल
त्वचा के लिए लाभकारी गुलाब जल हमारी आंखों के लिए भी काफी फायदेमंद है। अगर आप अपनी आंखों की रोशनी बढ़ाना चाहते हैं, तो इसके लिए सोने से पहले आंखों में गुलाब जल की तीन बूंदें डालें। हफ्ते में 2 या 3 बार ऐसा करने से आपको फायदा होने लगेगा। हालांकि, इसका इस्तेमाल करने से पहले एक बार डॉक्टर से जरूर सलाह लें।