गया: शहीद जुब्बा सहनी केंद्रीय कारा में नवगछिया के गोपालपुर, कहलगांव और विश्वविद्यालय थाने से मद्य निषेध अधिनियम में जेल भेजे गए तीन आरोपित रोहित मंडल, मंटू मंडल और मंटू रविदास चिकित्सकों की जांच में शराबी निकले। तीनों को शहीद जुब्बा सहनी केंद्रीय कारा से जेल प्रशासन ने शरीर कांपने और बेचैनी बढऩे पर 24 मार्च की रात जवाहर लाल नेहरू चिकित्सा महाविद्यालय अस्पताल के आपातकालीन कक्ष में भर्ती कराया था। जेएलएनएमसीएच के अधीक्षक असीम कुमार दास ने कहा कि तीनों बंदियों की हालत बिगड़ गई थी। उनकी डायलिसिस की गई।

  • कहलगांव, गोपालपुर और परबत्ती में पकड़े गए तीन आरोपित निकले शराबी
  • – तीनों को शहीद जुब्बा सहनी केंद्रीय कारा से जवाहर लाल नेहरू अस्पताल में कराया गया भर्ती
  • – चिकित्सकों ने जांच में पाया शराब के नशे में, शरीर कांपने पर जेल प्रशासन ने भेजा अस्पताल
  • – तीनों आरोपित रोहित मंडल, मंटू मंडल और मंटू रविदास मद्य निषेध अधिनियम के तहत हुए थे गिरफ्तार
  • – अस्पताल अधीक्षक ने कहा-तीनों लोगों की बिगड़ गई थी हालत, किया गया डायलिसिस

– बंदी मंटू मंडल : 32 वर्षीय मंटू नवगछिया के गोपालपुर थाना क्षेत्र स्थित गोसाईंगांव निवासी चंचल मंडल का पुत्र है। इसे गोपालपुर थाने की पुलिस ने मद्य निषेध अधिनियम के तहत गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में 24 मार्च की शाम जेल भेजा था