मेडिकल कालेज से संबद्ध जिला चिकित्सालय में तैनात हैं डॉक्टर
मेडिकल कालेज से संबद्ध जिला चिकित्सालय में तैनात हैं डॉक्टर

मेडिकल कालेज से संबद्ध जिला चिकित्सालय में तैनात हैं डॉक्टर

देवरिया: देवरिया के महर्षि देवरहा बाबा मेडिकल कालेज से संबद्ध बाबू मोहन सिंह जिला चिकित्सालय में तैनात डाक्टर का चयन नेशनल शूटिंग चैम्पियनशिप के लिए हुआ है। उनका चयन दिल्ली में आयोजित इंटर स्टेट शूटिंग चैम्पियनशिप में बेहतर प्रर्दशन के आधार पर हुआ है। जिला अस्पताल के डॉक्टर का चयन नेशनल स्पर्धा के लिए होने पर डॉक्टरों ने प्रसन्नता जताई है।
महर्षि देवरहा बाबा स्वायत्तशासी मेडिकल कॉलेज से संबद्ध जिला चिकित्सालय में चिकित्सक के पद पर तैनात हैं डा0 एसएस द्विवेदी। डा0 एसएस द्विवेदी ने दिल्ली में आयोजित इंटर स्टेट प्री नेशनल शूटिंग चैम्पियनशिप में 50 मीटर एयर पिस्टल शूटिंग स्पर्धा में छठवां स्थान प्राप्त किया। उनके इस प्रर्दशन पर नेशनल शूटिंग चैंपियनशिप के लिए इंट्री मिली है। सुनकर अजीब लगेगा लेकिन यह बात सोलह आने सच है। डा एसएस द्विवेदी अब नेशनल शूटिंग में भाग लेने जा रहे हैं। डॉक्टरी के पेशे से शूटर बनने के सफर को डा एसएस द्विवेदी ने दैनिक भास्कर से बातचीत में बताया कि जब वे दीन दयाल उपाध्याय मेडिकल कालेज नई दिल्ली से पढ़ाई के दौरान पीजी हॉस्टल में रह रहे थे। तब पास में ही रह रहे एक रंधावा साहब को उनके कमरे में प्रैक्टिस करते देखा। तो उन्होंने उत्सुकता वश पूछा कि ये हाथ उठाकर क्या कर रहे हैं ? तो रंधावा साहब ने जबाब दिया कि स्ट्रेंथ प्रैक्टिस (शुटिंग के लिए हाथ साधना) कर रहे हैं। मैंने पूछा मैं भी कर सकता हूं। उन्होंने कहा स्ट्रेंथ प्रैक्टिस करो। इसके बाद अनेक बार उनके साथ शुटिंग रेंज जाते रहे। अभ्यास करते रहे। डा0 एसएस द्विवेदी ने बताया कि देवरिया में अभ्यास के लिए मुकम्मल इंतजाम नहीं हैं। इसके लिए समय निकालकर गोरखपुर के रजही कैंप में जाकर प्रैक्टिस करते हैं।शामली, गोरखपुर,सहारनपुर, दिल्ली में मेडल जीत चुके हैं। मरीजों का इलाज और शूटिंग में कैसे संतुलन बिठाते हैं के सवाल पर डा एसएस द्विवेदी हंसते हुए कहते हैं कि मरीजों की सेवा सबसे पहले। अन्य अपनी जरूरतों के समय को बचाकर प्रैक्टिस करता हूं। डा0 एसएस द्विवेदी ने कहा कि गुलेल और ढेला चलाने से शुरू हुआ सफर अब नेशनल तक पहुंचा है। दिली इच्छा है कि देश के लिए पदक जीतूं और तिरंगा झंडा लहराऊं।

See also  पूर्व सांसद राजेश मिश्रा का हुआ स्वागत