रेलवे स्टेशन के उद्घाटन के साथ रोड शो करेंगे प्रधानमंत्री मोदी

   रेलवे स्टेशन के उद्घाटन के साथ रोड शो करेंगे प्रधानमंत्री मोदी

अयोध्या में आखिरकार भगवान राम का मंदिर बनकर तैयार हो गया है, जिसकी प्राण प्रतिष्ठा की तिथि भी नजदीक आ गई है। अयोध्या में बन रहे भव्य राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 30 दिसंबर को अयोध्या के दौरे पर रहेंगे। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे और अयोध्या रेलवे स्टेशन का उद्घाटन भी करेंगे। 

अयोध्या दौरे के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अयोध्या के लिए 3284.60 करोड़ रुपए से अधिक की 29 नई परियोजनाओं की आधारशिला रखेंगे। यह सभी परियोजनाएं केंद्र और राज्य सरकार के विभागों से जुड़ी हुई है। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, अयोध्या के आयुक्त गौरव दयाल ने कहा कि मोदी अपनी अयोध्या यात्रा के दौरान एक रोड शो और सार्वजनिक सभा भी करेंगे। गौरव दयाल ने पवित्र नगरी में किये जा रहे इंतजामों की जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि अस्पतालों में सभी सुविधाएं उपलब्ध हैं। मुख्यमंत्री इसकी समीक्षा भी कर रहे हैं। उच्च-स्तरीय सेवाओं के लिए, हम यहां से लखनऊ तक एक बैकअप योजना रखेंगे।

पहले चरण में तैयार हो चुके एयरपोर्ट और रेलवे स्टेशन का उद्घाटन होने जा रहा है। अनुमान के मुताबिक, 22 जनवरी के बाद, लगभग 50,000-55,000 लोग प्रतिदिन अयोध्या आएंगे और प्रशासन उसी की तैयारी में व्यस्त है। पीएम रेल को हरी झंडी दिखाएंगे। उसके बाद पीएम मोदी एयरपोर्ट के बगल वाले ग्राउंड पर जनसभा को संबोधित करेंगे। वह एयरपोर्ट से रेलवे स्टेशन तक का सफर करेंगे तो यह रोड शो के रूप में होगा। उनके स्वागत के लिए व्यवस्था की जा रही है।

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का यह तीसरा अयोध्या द्वारा होने वाला है। इससे पहले 5 अगस्त 2020 को मुख्य अतिथि के तौर पर उन्होंने राम मंदिर के शिलान्यास समारोह की अध्यक्षता की थी। इसके बाद दूसरी बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अक्टूबर 2022 में अयोध्या में आयोजित हुए दीपोत्सव समझ में शामिल हुए थे। वहीं अब तीसरी बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अयोध्या जाने वाले हैं जिसे लेकर कई स्तर पर तैयारी भी की जा रही है।

बता दें कि योगी आदित्यनाथ सरकार ने 22 जनवरी को अयोध्या में रामलीला की प्राण प्रतिष्ठा समारोह का आयोजन करने का फैसला लिया है। इस आयोजन को लेकर 100 करोड रुपए का बजट भी आवंटित किया गया है जिसमें पूरे प्रदेश में समारोह की एक श्रृंखला का आयोजन किया जाना है। इस दौरान प्रदेश के 826 स्थानीय निकायों में मंदिर में धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। महत्वपूर्ण धार्मिक आयोजन से पहले, प्रशासन ने शहर में सौंदर्यीकरण अभियान शुरू किया है। सड़कों को चौड़ा किया जा रहा है और बुनियादी ढांचे का नवीनीकरण किया जा रहा है।

Tags:

About The Author

Latest News